प्रेम और ज्योतिष
प्रेम -संबंध और ज्योतिष 
January 7, 2024
जिव्हां बंधन मंत्र
जिव्हां बंधन मंत्र :
January 10, 2024
खोए हुए मनुष्य हेतु

खोए हुए मनुष्य हेतु प्रयोग :

खोए हुए मनुष्य हेतु :अगर कोई खो गया हो अथबा घर से रूठकर चला गया हो तो उसे ढूढने के लिए जाते समय निम्नलिखित प्रयोग करने से उसका पता अबश्य चल जाता है । शुक्ल पक्ष के बृहस्पतिबार के दिन उल्लू को पकड़ कर उसे किसी बहती नदी में स्नान करायें, इसके बाद निम्नलिखित मंत्र का 1111 बार उचारण करते हुए उसका धूप, दीप ,पुष्प आदि से पूजन करें –

खोए हुए मनुष्य हेतु मंत्र “ॐ नमो पक्षिराज उल्लुकाय, नमो लक्ष्मी बाह्नाय “अमुकस्य” अन्वेषण कार्ये ‘मम’ सहायतां भब क्रां क्रीं क्रू स्वाहा।”

उक्त मंत्र में जँहा ‘अमुकस्य’ शव्द आता है, बहाँ जिस ब्यक्ति का पता लगाना हो, उसके नाम का उचारण करना चाहिये । जप पूरा हो जाने पर उल्लू के दोनों डैनों से एक –एक पंख नोंचकर अपने पास रख लें तथा उल्लू को छोड़ आयें ।फिर दोनों पंखो को लाल रंग के कपडे के टुकड़ों में अलग अलग लपेटकर उन्हें अपनी भुजाओं में बाँध लें, तत्पश्चात खोये हुए अथबा घर से रूठकर चले गये ब्यक्ति की खोज में निकलें तो अधिक से अधिक 31 दिन के भीतर उसका पता चल जाता है ।

Facebook Page Link

नोट : यदि आप की कोई समस्या है,आप समाधान चाहते हैं तो आप आचार्य प्रदीप कुमार से शीघ्र ही फोन नं : 9438741641{Call / Whatsapp} पर सम्पर्क करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *