सूतक काल और पातक काल
क्या है सूतक काल और पातक काल ?
May 12, 2024
बास्तु पति साधना
बास्तु पति साधना कैसे करें ?
May 13, 2024
गहने गायब

गहने गायब से संबंधित धार्मिक मान्यताएं:

गहने गायब :”शास्त्रों के अनुसार, गहने खो जाएं तो समझो दुर्भाग्य आने वाला है” यह एक प्राचीन और परंपरागत कहावत है जिसमें मान्यता है कि यदि किसीके पास किसी गहने को खो देने का अनुभव होता है, तो यह एक दुर्भाग्यपूर्ण संकेत होता है जो आने वाले कुछ बुरे घटनाओं की भविष्यवाणी कर सकता है । इस कहावत में विश्वास किया जाता है कि ऐसी घटनाएँ आने वाली हैं जो व्यक्ति के जीवन में अच्छाने वाली घटनाओं की बजाय कुछ बुरा होने की संभावना बढ़ाती हैं ।

यह कहावत समृद्धि और सुख-शांति की प्राप्ति के प्रतीक के रूप में भी देखा जा सकता है, क्योंकि गहने आमतौर पर समृद्धि और सौभाग्य का प्रतीक माने जाते हैं । इसके अलावा, यह कहावत मानव चिन्तन की दिशा में भी एक सामाजिक संदेश देता है कि दुःख और परेशानी के समय में भी उन्हें आत्मविश्वास और संघर्षशीलता बनाए रखना चाहिए ।

इसका अर्थ यह नहीं है कि आपके गहनों की हानि होने पर स्वयं को बेहतर समझने की कोई आवश्यकता नहीं है, बल्कि यह एक पुरानी मान्यता है जिसमें विश्वास किया जाता है कि जीवन के अच्छे और बुरे समय हमारे कर्मों और भाग्य के साथ आते हैं ।

धार्मिक ग्रंथों और पुराणों के अनुसार किसी भी तरह का आभूषण खोना दुर्भाग्य लाता है । इसके एक नहीं कई प्रमाण हैं। आइए जानें किस आभूषण के खोने से क्या नुकसान होने की आशंका हो सकती है ।
गहने गायब होने का का शुभ-अशुभ संकेत :
शास्त्रों में कहा गया है कि नाक का गहने गायब या  खो जाने का अर्थ है भविष्य में बदनामी अथवा अपमान होगा ।
अगर सिर का कोई गहने गायब या खो जाए तो आने वाले समय में टेंशन-परेशानियों का सामना करना पड़ेगा ।
कानों में डालने वाला कोई गहने गायब हो जाए तो किसी बुरे और दुखद समाचार प्राप्त होता है । गले का हार गुम हो जाए तो वैभव में कमी आती है ।
बाजू बंद के गुमने से आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है ।
कंगन का खोना प्रतिष्ठा में कमी लाता है ।
अंगूठी के गुमने से सेहत संबंधित परेशानियां होती हैं ।
दाएं पैर की पायल गुमने से सामाज में बदनामी सहनी पड़ती है ।
बाएं पैर की पायल गुमना ऐक्सीडेंट अथवा महाविपदा का संकेत है ।
बिछुआ गुम हो जाए तो पति की सेहत पर बुरा प्रभाव पड़ता है ।
सोना खोने पर गुरु के अशुभ प्रभावों का सामना करना पड़ता है । कहा जाता है कि गुरु के नाराज हो जाने यानी रुठ जाने पर परिवारिक कलह का सामना करना पड़ता है । साथ ही दांपत्य सुख में भी कमी आती है । अगर किसी को सोना मिलता है और वह जब तक घर में रखा होता है । तब तक परिवार का कोई न कोई सदस्य बीमार रहता है या घर में हमेशा कलह बना रहता है ।
यदि किसी को सोना मिलता है तो उस सोने को बेचकर उसका कुछ भाग दान कर देने से उसका अशुभ प्रभाव खत्म हो जाता है ।
अगर घर में किसी महिला या बच्चे से सोना या गहने गायब हो जाता है तो इसे अशुभ संकेत माना जाता है कहा जाता है कि सोना गुम होने पर घर में कलह होता है और दांपत्य जीवन में कड़वाहट आने लगती है ।

ज्योतिषाचार्य प्रदीप कुमार

हर समस्या का स्थायी और 100% समाधान के लिए संपर्क करे (मो.) 9438741641 /9937207157 {Call / Whatsapp}

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *