सुबह सुबह इन्हें देख लेने से दिन हो जाता है बुरा, इनसे बचें :
सुबह सुबह इन्हें देख लेने से दिन हो जाता है बुरा, इनसे बचें :
February 17, 2024
हनुमान चालीसा
हनुमान चालीसा के तांत्रिक प्रयोगों का महत्व
February 17, 2024

नौ नाथों के नाम :

नौ नाथों का नाम स्मरण करें और इस मंत्र का जाप करें । साधक एकाग्र मन से श्री गणेश का नाम लेकर श्री नबनाथों के नाम स्मरण करके भक्ति भाब से प्रार्थना करें और आगे दिये गये मंत्र का जाप करें । जिससे साधक पर कृपा बनी रहेगी तथा साधना में सफलता मिले । इससे साधक को शीघ्र सिद्धि प्राप्त होती है । साबर मंत्र साधना में मूल नामों का स्मरण करने से सफलता मिलती है तथा इछित कार्यपूर्ण होता है । अब मंत्र जपे …
 
नौ नाथों मंत्र जाप :
“सत नमो आदेश गुरु जी को आदेश ॐ कार आदिनाथ (ॐ कार) ज्योति स्वरुप बोलिये। उदयनाथ पार्बती (धरती) स्वरुप बोलिये । सत्यनाथ ब्रह्मा जी (जल) स्वरुप बोलिये । संतोष नाथ बिष्णु जी (ख्ड्ग-खाणडा, तेज) स्वरुप बोलिये। अचल-अचम्भे नाथ शेष (बायु) स्वरुप बोलिये। गजबेलि गज-कथड नाथ गणेश जी (गजहस्ती) स्वरुप बोलिये। ज्ञान पारखी सिद्ध चौरगी नाथ चंद्रमा (अठारहभार – बनस्पति) स्वरुप बोलिये । माया स्वरुपी दादा मत्स्येन्द्रनाथ (सत्य) माया स्वरुप बोलिये ।घटे पिणडे (पिण्ड) नब निरुतरे रख्या करें। श्री शम्भुजती गुरु गोरखनाथ शिब (बाल) स्वरुप बोलिये श्री नाथ जी गुरुजी को आदेश ।”
 
नौ नाथों मंत्र जाप बिधि :
उपरोक्त मंत्र की बंदना समाप्त होने के उपरांत (बाद) जपले और अपनी साधना का शुभ- आरम्भ करें। ये कामरुदेश का गुप्त चमत्कारी रख्यामंत्र सिद्ध किया हुआ हैं ।शमशान में साधना करते समय कीलन करने की साधना एबं बिधि मेरे स्वयं का प्रयोग आजमाया हुआ है ।

हर समस्या का स्थायी और 100% समाधान के लिए संपर्क करे :मो. 9438741641 {Call / Whatsapp}

जय माँ कामाख्या

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *