स्वयं सिद्ध कर्णपिशाचिनी साधना :
स्वयं सिद्ध कर्णपिशाचिनी साधना कैसे करें ?
April 18, 2024
वशीकरण मंत्र प्रयोग
अपने प्यार को पाने के लिए वशीकरण मंत्र प्रयोग
April 18, 2024
प्रेमिका को घर बुलाने का तंत्र प्रयोग :
मंत्र : “मोहिनी माता, भूत पिता, भूत सिर वेताल। उड़ ऐं काली ‘नागिन’ को जा लाग। ऐसी जा के लाग कि ‘नागिन’ को लग जावै हमारी मुहब्बत की आग। न खड़े सुख, न लेटे सुख, न सोते सुख। सिन्दूर चढ़ाऊँ मंगलवार, कभी न छोड़े हमारा ख्याल। जब तक न देखे हमारा मुख, काया तड़प तड़प मर जाए । चलो मन्त्र, फुरो वाचा। दिखाओ रे शब्द, अपने गुरु के इल्म का तमाशा ।”
इस मंत्र में ‘नागिन’ शब्द के स्थान पर अपनी प्रेमिका का नाम (सीता, गीता आदि) लेना है । प्रेमिका को घर बुलाने का यह मंत्र एक विधि के अनुसार किया जाता है । शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा से आठ दिन पूर्व इस मंत्र की आराधना शुरू की जाती है । रात्रि 10 बजे स्नान कर शुद्ध वस्त्र पहनकर घर के एकांत कमरे में बैठ जाएं ।
उस कमरे को गंगाजल से पवित्र कर लें एवं सुगंधमयी धूपबत्ती और अगरबत्ती जला लें । अब दो घंटे तक यानि ठीक बारह बजे तक इस मंत्र का उच्चारण करना है । मंत्र उच्चारण के दौरान अगर प्रेमिका की तस्वीर सामने रख लें तो वह और भी ज्यादा उत्तम रहेगा ।
पूर्णिमा की रात तक आपको नियमित रूप से इस विधि का पालन करना है और आप देखेंगे यह मंत्र एक चमत्कार की तरह आपकी ज़िन्दगी बदल देगा ।
प्रेमिका को पाने के लिए आपको निम्न बिन्दूओं पर ध्यान देने की जरूरत है-
• प्रेमिका से शुक्रवार और पूर्णिमा के दिन अवश्य मिलें । इससे आपके बीच संबंध मजबूत होंगे और रिश्तों में मिठास भी बढ़ेगी ।
• प्रेमिका को पाने के लिए और उससे नज़दीकियां बढ़ानेके लिए भूलकर भी उससे शनिवार के दिन या अमावस की रात्रि को ना मिलें । क्योंकि इस समय में दैत्य शक्तियां प्रबल हो जाती है, जो प्रेमी जोड़ों को अलग करने का काम करती है ।
• कई बार कुंडली में मांगलिक दोष के कारण भी प्रेमी-प्रेमीका के बीच दरार बढ़ने लगती है । अगर प्रेमीका और आपके बीच भी अक्सर अनबन होती रहती है तो तो जल्द से जल्द अपनी कुंडली किसी विद्वान पंडित को दिखा लें ।
• प्रेमीका को पाने के लिए आप कुछ उपहार दें, उपहार देते समय ये ध्यान रखिए कि वह काले या नीले रंग का ना हो । और साथ ही वह नुकाला या धारदार नहीं होना चाहिए ।

सम्पर्क करे (मो.) 9438741641/ 9937207157  {Call / Whatsapp}

जय माँ कामाख्या

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *