मस्तक के कीडे आदि निकालने का मंत्र :
मस्तक के कीडे आदि निकालने का मंत्र
May 1, 2024
मौत का गुड्डा :
मौत का गुड्डा
May 1, 2024
कृष्ण मंत्र :
{{कृष्ण मुरारी श्याम मनोहर,
मुरलीधारी कृष्ण दिबाकर,
हे प्रभु सुन ले बिनती मोरी,
कर दे मेरी इछा पूरी ।
……. मेरे प्रेम में डूबे ।
सब कुछ भूले मुझमें डूबे ।
ओम श्री कृष्णाय नम: ।}}
 
प्रेमी के मोजे या अधोबस्त्र या बाल – इनको लेकर अपने बख्य के मध्य, ह्रूदयमूल पर बांधकर रात में 11 माला प्रेमी बशीकरण मंत्र पढकर सोयें । प्रात: इसे अनार के पेड की जड में दबाकर 21 दिन तक प्रेमी बशीकरण मंत्र पढकर ब्रह्म मुहूर्त मे जल डालें । इस बीच प्रतिदिन किसी-न-किसी बहाने प्रेमी से मिलें, भले ही प्रेम का इजहार न करें, बह स्वयं प्रेम का इजहार करेगा और आपके बश में होगा ।
To know more about Tantra & Astrological services, please feel free to Contact Us :
ज्योतिषाचार्य प्रदीप कुमार (मो.) 9438741641 /9937207157 {Call / Whatsapp}
जय माँ कामाख्या

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *