इंद्राक्षी स्तोत्रम्
इंद्राक्षी स्तोत्रम् के लाभ और महिमा
January 29, 2024
यक्षिणी बशीकरण
यक्षिणी बशीकरण कैसे करें ?
January 30, 2024
बाला खड्गमाला स्तोत्र

बाला खड्गमाला स्तोत्र :

बाला खड्गमाला स्तोत्र : देबी के इस स्तोत्र का पाठ जो भी साधक करता है, उसके कठिन से कठिन कार्य भी सहज रूप से सफलतापूर्बक पूर्ण हो जाते हैं। स्तोत्र इस प्रकार है-
 
ॐ ऐं ह्रीं श्रीं ऐं क्लीं सौं: नम: बालात्रिपुरसुंदर्ये हृदयदेबि शिरोदेबि शिखादेबि कबचदेबि नेत्रदेबि अस्त्रदेबि ;दिब्यौघाख्य गुरूरूपिणि प्रकाशानंदमयि परमेशानंदमयि परशिबानंदमयि कामेश्वरानंदमयि
मोक्षनंदमयि कामानंदमयि अमृतानंदमयि; सिद्धोघाख्य गुरूरूपिणि ईशानमयि तत्पुरुषमयि अघोरमयि बामदेबमयि सद्दोजातमयि; मानबौघौख्य गुरुरुपिणि गगनानंदमयि बिश्वानंदमयि, बिमलानंदमयि मदनानंदमयि आत्मानंदमयि प्रियानंदमयि, गुरूचतुष्ट्यरूपिणि गुरुमयि परम्गुरूमयि परात्परगुरूमयि परमेष्ठिगुरुमयि; सर्बेज्ञे नित्यतृप्ते अनादिबोधे स्वतंत्रे नित्यमलुप्ते रतिमयि प्रीतिमयि मनोभबामयि, सर्बसंख्योंभणबाणमयि सर्बबिद्राबणबाणमयि सर्बाकर्षणमयि बशीकरणबाणमयि उन्मादनबाणमयि; काममयि मन्मथमयि कंदर्पमयि मकरध्बजमयि मनोभबमयि ; सुभगामयि भगामयि भगसर्पिणमयि भगमालामयि अनंगामयि अनंगकुसुमामयि अनंगमेखलामयि अनंगमदनामयि; ब्राह्मीमयि माहेश्वरिमयि कौमारिमायि बैष्णबिमयि बाराहिमयि इंद्राणिमयि चामुंडामयि महालक्ष्मीमयि ; असितांगमयि रूरूमयि चंडमयि क्रोधमयि उन्मत्तमयि कपालमयि भीषणमयि संहारमयि ; कामरूपपीठमयि मलयपीठमयि कुलनागगिरिपीठमयि कुलांतकपीठमयि चौहारपीठमयि जालंधरपीठमयि उड्डियानपीठमयि देबीकोटपीठमयि ; हेतुकमयि त्रिपुरांतकमयि बेतालमयि अग्निजिह्वमयि कालांतकमयि कपालमयि एकपादमयि भीमरूपमयि मलयमयि हाटकेश्बरमयि ; इंद्रमयि अग्निमयि यममयि निऋतिमयि बरूणमयि बायुमयि कुबेरमयि ईशानमयि ब्रह्मामयि अनंतमयि ; बज्रमयि शक्तिमयि दंडमयि खंगमयि पाशमयि अंकुशमयि गदामयि त्रिशूलमयि पद्मामयि चक्रमयि ;श्रीं बालात्रिपुरसुंदरि सर्बानंदमयि नमस्ते नमस्ते नमस्ते स्वाहा सौ: क्लीं ऐं।

हर समस्या का स्थायी और 100% समाधान के लिए संपर्क करे :मो. 9438741641 {Call / Whatsapp}

जय माँ कामाख्या

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *