पंच पीर साधना
पंच पीर साधना :
March 23, 2024
कुंडली का सप्तम भाव
कुंडली का सप्तम भाव : जानें विवाह भाव का महत्व
March 24, 2024
किस वार को किस दिशा में न करें यात्रा
ज्योतिषशास्त्र में वार का बहुत बड़ा महत्व है । भारतीय धर्मशास्त्र ग्रंथो में भी सप्तवारों को भी महत्ता दी गयी है कि किस देव की पूजा किस वार को करनी चाहिए । और कोन सा वार किस देव के लिए विशेष है । ज्योतिषशास्त्र के मुख्य पंचअंग ( पंचांग) का निर्माण करने में भी वार का प्रमुख स्थान है समय की गणना या सभी प्रकार के मुहूर्त, संस्कार, हवन, पूजा अनुष्ठान, यात्रा आदि समय को निर्धारण करने में वारों की भूमिका सबसे पहले दिखाई देती है । यात्रा समय में वार और दिशा का मानव जीवन में बहुत बड़ा प्रभाव रहता है । आओ जानते हैं –
ज्योतिषशास्त्र में बताया गया है कि किस दिन यात्रा करनी चाहिए और किस दिन यात्रा करना शुभ नहीं होता है । अगर कुछ खास दिनों में यात्रा की जाए तो कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है । आइए आपको बताते हैं । ज्योतिषशास्त्र के अनुसार किस दिन, किस दिशा की यात्रा करना शुभ नहीं रहता है –
रविवार :- रविवार को पश्चिम दिशा की सफर करना शुभ नहीं माना जाता है ।
सोमवार – सोमवार को पूर्व दिशा की सफर पर नहीं जाना चाहिए
मंगलवार- मंगलवार के दिन उत्तर दिशा में सफर नहीं करनी चाहिए, ज्योतिषशास्त्र में मंगलवार के दिन सफर करना शुभ नहीं माना जाता है ।
बुधवार – बुधवार के दिन भी उत्तर दिशा में सफर करना शुभ नहीं माना जाता है । इस दिन सफर करने से जातक को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है ।
गुरुवार- ज्योतिष शास्त्र के अनुसार विशेष कर गुरुवार के दिन दक्षिण दिशा की सफर करना शुभ नहीं माना जाता है ।
शुक्रवार :-शुक्रवार को पश्चिम दिशा में सफर नहीं करनी चाहिए ।
शनिवार :शनिवार को पूर्व दिशा की सफर नहीं करनी चाहिए ।
यदि आपको किसी विशेष कार्य के लिए यात्रा पर जाना ही पड़ रहा है और कार्य में असफलता से बचना है तो आप उस दिन किस समय घर से निकलें। जो आपके लिए शुभकारी हो और आपको शुभफल प्रदान करे ।

सम्पर्क करे: मो. 9937207157/ 9438741641  {Call / Whatsapp}

जय माँ कामाख्या

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *