महाकाल भैरव का सिद्धि-प्रदायक मंत्र :
महाकाल भैरव का सिद्धि-प्रदायक मंत्र :
May 2, 2021
मुठ काटना ( प्रयोग 1 & 2 ) :
मुठ काटना ( प्रयोग 1 & 2 ) :
May 2, 2021
मारण प्रयोग :
मारण प्रयोग :
 
मंत्र : ओम नमो हाथ फाउडी कांधे मारा भैरुं बीर मसाने खडा,लोहे की धनी बज्र का बाण, बेग न मारे तो देबी कालका की आण, गुरु की शक्ति मेरी भक्ति फुरो मंत्र इश्वरो बाचा सतनाम आदेश गुरु का।
 
बिधान : उक्त मंत्र को दीपाबली अथबा किसी अमाबस्या की रात्रि मे शाबर-बिधान से जप करके सिद्ध करें। दीपक जलाकर गुग्गुल की धूप दें।उडद के 120 दाने लें। एक-एक दाने पर मंत्र पढ्कर 108 बार उन दानों को दीपक की लौ पर मारते जाए। फिर 12 बार मारें। तदोपरांन्त (गलत प्रयोग ना होने केलिये यन्हा कुछ छुपया गया है ) रक्त लेकर उड्द के दानों पर लगाए और उन दोनों को राख में मिलाकर रख लें ।प्रयोग के समय 120 दानों मे से 3 दाने लेकर प्रत्येक को उक्त मंत्र से अभिमंत्रित करके शत्रु पर मारे तो उसे गहन पीडा भोगनी पडती है ।
 
 
To know more about Tantra & Astrological services, please feel free to Contact Us :
ज्योतिषाचार्य प्रदीप कुमार
समस्या के समाधान के लिए संपर्क करे: मो. 9438741641 {Call / Whatsapp}
जय माँ कामाख्या

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *