अंगों के स्फुरण से मिलते हैं भविष्य के संकेत :
अंगों के स्फुरण से मिलते हैं भविष्य के संकेत :
June 11, 2021
ऋतुपीडा निबारक मंत्र :
ऋतुपीडा निबारक मंत्र :
June 15, 2021
अगर ये संकेत आपको बार बार मिल रहा है,तो समझ लीजिये कि आपकी मौत आने वाली हैं :
अगर ये संकेत आपको बार बार मिल रहा है,तो समझ लीजिये कि आपकी मौत आने वाली हैं :
मौत कब आ जाये, ये कोई नहीं जानता लेकिन ये तो सब जानते है, कि भगवान् ने जब से इस दुनिया की रचना की है, तब से हर चीज का समय निश्चित करके रखा है. ऐसे में जैसे ही किसी चीज का जीवनकाल खत्म हो जाता है, वैसे ही वो उसे अपने पास बुला लेता है. फिर भले ही वो इंसान हो या कोई निर्जीव वस्तु पर ये नियम हर किसी पर लागू होता है. इसके इलावा गीता में भी ये कहा गया है, कि जो इस धरती पर आता है, उसे एक न एक दिन जाना ही पड़ता है. शायद यही वजह है, कि इंसान अपनी मौत को लेकर सबसे ज्यादा चिंता में रहता है. हमारे देश में विज्ञानं ने भले ही कितनी भी तरक्की क्यों न कर ली हो, पर मौत को अपने वश में कर पाना विज्ञानं के लिए भी नामुमकिन है. हालांकि भगवान् शंकर से संबंधित शिवपुराण में ऐसी कई बातें बताई गयी है, जो मौत आने से पहले के संकेतो की तरफ इशारा करती है. गौरतलब है, कि इसमें भगवान् शिव ने माँ पार्वती को मौत के विषय में कुछ विशेष संकेत बताएं थे. इन संकेतो से ये जाना जा सकता है, कि इंसान की मृत्यु कब और कितने समय में हो सकती है. वैसे इसमें कोई दोराय नहीं कि ये संकेत ईश्वर द्वारा ही दिए जाते है. तो चलिए अब आपको उन संकेतो के बारे में विस्तार से बताते है.
शिवपुराण के अनुसार जब सब कुछ ठीक होते हुए भी मनुष्य को आईने में अपना चेहरा साफ़ न दिखाई दे या वह खुद को आईने में देख कर भी पहचान ना पाएं तो ये मौत का ही संकेत है. अगर ये संकेत आपको बार बार मिल रहा है, तो समझ लीजिये कि आपकी मौत नजदीक है.
इसके इलावा विष्णु पुराण में ऐसा लिखा गया है, कि मृत्यु से छह महीने पहले व्यक्ति की जीभ ठीक तरह से काम नहीं करती. ऐसे में उस व्यक्ति को भोजन का सही स्वाद भी प्राप्त नहीं होता. यहाँ तक कि व्यक्ति को बोलने में भी दिक्कत आती है. ऐसे में यदि वह बोलता भी है, तो उसकी बातें दूसरो को समझ नहीं आती.
गौरतलब है, कि यदि आप किसी खुले आसमान के नीचे खड़े है और आसमान पूरा तारो से भरा है, पर फिर भी आपको कोई तारा न दिखाई दे, तो समझ लीजिये कि आपकी मौत आने वाली है. यानि आपकी जिंदगी के केवल कुछ ही दिन बचे है. वैसे बता दे कि जिन लोगो की मौत करीब आने लगती है, उन्हें चाँद और सूरज भी सामान्य रूप से दिखाई नहीं देते.
इसके इलावा यदि आप अपनी नाक के अगले हिस्से को देखने की बहुत कोशिश कर रहे है और फिर भी देख नहीं पा रहे है, तो समझ लीजिये कि मौत धीरे धीरे आपके पास आ रही है. यदि ये संकेत आपको बार बार मिल रहा हो तो आपको सावधान होने की जरूरत है.
गौरतलब है, कि मृत्यु से पहले शरीर की पांचो ज्ञानेन्द्रियाँ जैसे आँख, नाक, कान, जीभ और मुँह आदि भी ठीक से काम करना बंद कर देती है. यानि ऐसे में न तो आप ठीक से सुन पाते है और न ही देख पाते है. इसलिए यदि आपको भी ऐसी कोई दिक्कत है, तो समझ लीजिये कि मृत्यु आने ही वाली है.
इसके इलावा यदि आपको अपनी ही परछाई न दिखाई दे, तो समझ ले कि मौत का बुलावा बस आने ही वाला है.

To know more about Tantra & Astrological services, please feel free to Contact Us :

ज्योतिषाचार्य प्रदीप कुमार

सम्पर्क करे: मो. 9438741641  {Call / Whatsapp}

जय माँ कामाख्या

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *