बीर बिरहना की सिद्धि
बीर बिरहना की सिद्धि
October 30, 2022
Libra Horoscope for 2023 :
Libra Horoscope for 2023 :
October 31, 2022
यक्षिणी और किन्नरी मंत्र

यक्षिणी और किन्नरी मंत्र :

“ॐ यक्षाय कुबेराय धनधान्यधिपतये धनधान्य समृद्धि में देहि दापय स्वाहा ।”

लक्ष्मी यक्षिणी – ॐ ह्रीं क्लीं महालक्ष्म्ये नम: ।
कामेश्वरी यक्षिणी – ॐ आगच्छ कामेश्वरी स्वाहा ।
कनाकाबती यक्षिणी – ॐ कनकाबती मैथुन प्रिये स्वाहा ।
रतिप्रिया यक्षिणी – ॐ आगच्छ रति सुन्दरी स्वाहा ।
घंटा यक्षिणी – ॐ ऐ पुरं क्षोभय भगबती गंभीर स्वरे कलै स्वाहा ।
महेंद्री यक्षिणी – ॐ ऐ क्लीं ऐन्द्री माहेन्द्री कुलु कुलु चुलू चुलू हंस स्वाहा ।
शंखिनी यक्षिणी – ॐ शंख धारिणी शंखभरणी ह्रीं ह्रीं क्लीं क्लीं क्लीं श्री स्वाहा ।
सुलोचना यक्षिणी – ॐ क्लीं सुलोचानादि देबी स्वाहा ।
स्वामीश्वरी यक्षिणी – ॐ ह्रीं आगच्छ स्वामीश्वरी स्वाहा ।
भूतलोचना यक्षिणी – ॐ भूते सुलोचनेत्वम् ।
अशुभक्षया धामी यक्षिणी – ॐ ऐ क्लीं नम: ।
उछिष्ट यक्षिणी – ॐ जगभय माद्दे मद्द्निभे स्वाहा ।
सुशोभना यक्षिणी – ॐ अशोक पल्ल्बा कारकर तेले शोभने देबी श्री क्ष: स्वाहा ।
श्मशानी यक्षिणी – ॐ हूँ ह्रीं क्लीं क्ले स्फुं श्मशान बासिनी श्मशाने स्वाहा ।
कापालिनी यक्षिणी – ॐ ऐ कपालिनी हाँ ह्रीं क्लीं क्ले क्लौ हस सकल ह्रीं फट स्वाहा ।
दिबाकीर किन्नरी मंत्र – ॐ दिबाकीरमुखी स्वाहा ।
बिशाला किन्नरी मंत्र – ॐ बिशाला बिशालनेत्रे स्वाहा ।
सुभगा किन्नरी मंत्र – ॐ ह्रीं सुभगे स्वाहा ।
मनोहारी किन्नरी मंत्र – ॐ ह्रीं मनोहार्ये नम: ।
सुरतिप्रिये किन्नरी मंत्र – ॐ ह्रीं सुरतिप्रिये स्वाहा ।
मंजुघोष किन्नरी मंत्र – ॐ मंजुघोष आगच्छगछ स्वाहा ।
अश्वमुखी किन्नरी मंत्र – ॐ ह्रीं अश्वमुखी स्वाहा ।

नोट : यदि आप की कोई समस्या है,आप समाधान चाहते हैं तो आप आचार्य प्रदीप कुमार से शीघ्र ही फोन नं : 9438741641{Call / Whatsapp} पर सम्पर्क करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *