श्री पाताल नृसिंह मंत्र :
श्री पाताल नृसिंह मंत्र
November 11, 2022
अन्धाक मंत्र :
अन्धाक मंत्र
November 12, 2022

सर्ब बाधाओं के लिये :

श्री हनुमान जयंती या दीपाबली , होली तथा मकर संक्रांति को मंत्र को १०१ बार पढ़ा करें फिर लड्डू का भोग लगायें उसके बाद सख्त जरुरत पड़ने पर इस्तेमाल करें ।

अंजनी को सुत पबन को पूत ।केसरी को नन्दन लाल चन्दन ।
पौन का घोडा पौन असबार ।खुर समझकर कर समुद्र पार ।
जाके तहाँ करयो मार । भूत मचायो हा हा कार ।
हाथ में मुंगरा मुँह में राम । दुश्मन को करे तमाम ।
सारो कष्ट भागा जाय । जैसी राम को नाम सुनाय ।
मुंह से बाके जय सियाराम । कष्ट न भागे तो ।
माता सीता की आण पड़े ।भाई लखन को हाथ चलें ।
राम जी को बाण चले । शिब को त्रिशूल चले ।
पार्बती को सिंग चले । गंगू को फरसा चले ।
काली को खप्पर चले ।भैंरों को खड़ग चले ।
नारसिंह को दाढो खुले ।मेरी भक्ति गुरु की शक्ति ।
फुरो मंत्र ईश्वरो बाचा: ।।

ज्योतिषाचार्य प्रदीप कुमार
हर समस्या का स्थायी और 100% समाधान के लिए संपर्क करे :मो. 9438741641 {Call / Whatsapp}

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *