शत्रु नाशक शाबर धूमावती साधना विधि विधान

शत्रु नाशक शाबर धूमावती साधना :

शत्रु नाशक शाबर धूमावती साधना विधि विधान : दस महाविद्याओं में माँ धूमावती का स्थान सातवां है और माँ के इस स्वरुप को बहुत ही उग्र माना जाता है । माँ का यह स्वरुप अलक्ष्मी स्वरूपा कहलाता है किन्तु माँ अलक्ष्मी होते हुए भी लक्ष्मी है । एक मान्यता के अनुसार जब दक्ष प्रजापति ने … Read more

धूमाबती बिद्या :

धूमाबती बिद्या

धूमाबती बिद्या : धूमाबती बिद्या :तिनकों से एक छोटा सूप (छाजला) बनायें । थोड़ी शराब ब बकरे का कच्चा मांस का टुकड़ा ले जायें । अमाबस्या की रात्रि में जलती चिता के पास बैठकर १० माला धूमाबती बिद्या मंत्र का जप करें । बहीं से एक कफ़न का टुकुडा प्राप्त करें, श्मशान भस्म में शराब … Read more