कुते का शकुन :
कुते का शकुन :
March 4, 2023
कनकबती
कनकबती यक्षिणी साधना :
March 4, 2023

कर्णपिशाचिनी यक्षिणी साधना :

कर्णपिशाचिनी यक्षिणी का साधन मंत्र यह है –
“ॐ ह्रीं च: च: कम्बलके गत्या पिण्ड पिशाचिके स्वाहा ।”

साधन बिधि : प्रतिदिन सूर्योदय तथा सूर्यास्त के समय इस मंत्र का १००८ की संख्या में २१ दिन तक जप करें तथा संध्या के समय अपने आहार में से एक पिण्ड छत के ऊपर फेंक दिया करें तो “कर्णपिशाचिनी” यक्षिणी प्रसन्न होकर साधक की शय्या पर आती है तथा उसे प्रतिदिन २५ स्वर्ण मुद्राएं देकर, उसके प्रत्येक प्रश्न का उत्तर कान में बताती रहती है ।

Our Facebook Page Link

यदि आप को सिद्ध तांत्रिक सामग्री प्राप्त करने में कोई कठिनाई आ रही हो या आपकी कोई भी जटिल समस्या हो उसका समाधान चाहते हैं, तो प्रत्येक दिन 11 बजे से सायं 7 बजे तक फोन नं . 9438741641 (Call/ Whatsapp) पर सम्पर्क कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *