अक्षत झोपडी
श्री माई अक्षत झोपडी सिद्धि कैसे प्राप्त करें?
February 11, 2024
मैली बिद्या
कामरू देश मैली बिद्या का मंत्र :
February 11, 2024
झोपडी सिद्धि मंत्र

श्री मेलडी झोपडी सिद्धि मंत्र :

ॐ नमो आदेश गुरु को ओम गुरु जी मेलडी झोपडी
माई। सुमिरो आधी रात जाप जपु। मेलडी मंतर पाठ करूं,
मा मेलडी आबे। जो बुलाबूं बहीं अये मोरी हंकारी मारी
बोलाबी न तो राजा राम लख्यमण जति की दुहाई। शवद
सांचा पिण्ड काचा फुरो मंत्र ईश्वर महादेबजी का बाचा।।
।। झोपडी सिद्धि मंत्र बिधि ।।
इस साधना को काली चौदस की रात्रि में किसी एकान्त में स्थित श्मशान घाट पर जा कर काले बस्त्र धारण करके 12 बजे के समय चिता के स्थान पर बैठ कर तेल का दीपक जलाकर अपने सामने रखें । अग्नि कोण में साधक अपना मुख रखें । लोबान, बतीसा,लौंग, कपूर का धूप जलाबें । रख्या मंत्र जपते हुये चाकू से लख्य्मण रेखा खींच ले , एक पात्र पानी का रखें अपने सम्मुख । फिर माई का ध्यान, स्मरण, आह्वान करके सिन्दुर, कुम्कुम, नारियल, मदिरा, सुखडी, बकरे की कलेजी से पूजा कर लें तथा इत्र, पांच गुलाब के पुष्प दीपक के पास चडाबें । इसके बाद 108 बार गुरु मंत्र का जाप करें । फिर प्रबाल की माला से या रक्त चंदन की माला से उपरोक्त झोपडी सिद्धि मंत्र का जप आरम्भ करें । साधक एकाग्रतापूर्बक माला जाप करें । इसी भांति 21 दिन यह साधना करे तो सिद्धि मिलती है । साधना में ब्रह्म्चर्य का पालन करें बहिन बेटी, माता का सन्मान करे तथा झोपडी सिद्धि मंत्र साधना की अबधी मे साधक भूमि पर सयन करे । साधक अपने गुरु देब से मार्गदर्शन लेता रहे । यह झोपडी सिद्धि मंत्र साधना भयदायक है । रास्ते मे आते जाते समय भी साबधानी रखें इस साधना मे साधक डरे नहीं कयोंकि अगर भयभीत हो गये तो प्राण जा सकते हैं । माता मेलडी की यह साधना कठीन है । माई का क्रोध साधक को संकट में डाल सकता है । यह उग्र रूप में साधक के सामने कई दृश्य दिखाती है ।
 
नोट : कृपया आप झोपडी सिद्धि मंत्र साधना किसी की जानकारी में ही करें मैंने केबल जानकारी हेतु ही प्रयोग दिया हैं । आप बिना गुरु के न करें ।

हर समस्या का स्थायी और 100% समाधान के लिए संपर्क करे :मो. 9438741641 {Call / Whatsapp}

जय माँ कामाख्या

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *