शत्रु-मोहन कामाक्षा मंत्र

शत्रु-मोहन कामाक्षा मंत्र

शत्रु-मोहन कामाक्षा मंत्र : कामाक्षा मंत्र : “चन्द्र-शत्रु राहू पर, विष्णु का चले चक्र।भागे भयभीत शत्रु, देखे जब चन्द्र वक्र।दोहाई कामाक्षा देवी की, फूँक-फूँक मोहन-मन्त्र।मोह-मोह-शत्रु मोह, सत्य तन्त्र-मन्त्र-यन्त्र।।तुझे शंकर की आन, सत-गुरु का कहना मान। ॐ नमः कामाक्षाय अं कं चं टं तं पं यं शं ह्रीं क्रीं श्रीं फट् स्वाहा ।।” कामाक्षा मंत्र विधिः- … Read more

शत्रु स्तम्भन प्रयोग क्या है?

शत्रु स्तम्भन प्रयोग

शत्रु स्तम्भन प्रयोग क्या है ? साधक को कौए का एक पंख प्राप्त करना चाहिए । फिर साधक शनिवार की रात्री में उस पंख पर सिन्दूर से शत्रु का नाम लिखे तथा निम्न मन्त्र का १०८ बार पाठ करे । इसके लिए कोई भी माला की ज़रूरत नहीं है । साधक का मुख दक्षिण दिशा … Read more

शत्रु को मृत्यु तुल्य दंड देती है माँ बगलामुखी

माँ बगलामुखी

शत्रु को मृत्यु तुल्य दंड देती है माँ बगलामुखी : माँ बगलामुखी : यदि आप निरपराधी हैं और शत्रु आप पर लगातार तंत्र का दुरूपयोग कर आप को परेशान कर रहा है, तब माँ बगलामुखी के दंड विधान प्रयोग करने में विलम्ब न करें, जब तक दुष्ट को उसकी दुष्टता का दंड नहीं मिल जाता, … Read more

शत्रु उच्चाटन प्रयोग क्या है?

शत्रु उच्चाटन प्रयोग :

शत्रु उच्चाटन प्रयोग क्या है ? जीवन में कई बार ऐसी परिस्थितियाँ आ जाती हैं कि व्यक्ति को यह निश्चय करना पड़ता है कि अब कुछ भी हो जाए . . . पर शत्रु को तो परास्त करना ही है । आप बार -बार विभिन्न प्रयासों द्वारा उसे शांत करते हैं किन्तु वह बार-बार पुनः … Read more

शत्रु नाशक श्मशान काली मंत्र साधना कैसे करें ?

शत्रु नाशक श्मशान काली मंत्र साधना :

शत्रु नाशक श्मशान काली मंत्र साधना : श्मशान काली मंत्र : “ॐ ह्रीं ह्रीं क्लीं क्लीं क्लीं श्मशान बासिनी महाउग्ररुपणी महिशाषुर मर्दनी खड्ग पालिनी चण्ड मुण्ड नाशिनी महामाया काल रूपा काली मम शत्रुन् मारय मारय भखय भखय त्रोटय त्रोटय, मांस खादय खादय रक्त पिब पिब क्रीं ह्रीं क्लीं हूँ फट् स्वाहा।।” ।। श्मशान काली मंत्र … Read more

शत्रु को श्बक सिखाने का तंत्र प्रयोग :

तंत्र प्रयोग

शत्रु को श्बक सिखाने का तंत्र प्रयोग : तंत्र प्रयोग : यह अघोर तंत्र प्रयोग है । साधक रबिबार की रात्रि में श्मशान जाकर दखिण दिशा की और मुख करके बैठ जाये और अपने सामने नौ निम्बु रखकर एक तेल का दीपक जलाबे, लोबान का धूप जलाबे और श्मशान काली की पूजा मांस मदिरा से … Read more