कुंडली में शनि दोषयुक्त हो तो

शनि दोषयुक्त हो तो

कुंडली में शनि दोषयुक्त हो तो : ज्योतिष शास्त्र में शनि ऐसा ग्रह है जिससे राजा हो या रंक, सभी भयभीत हो जाते हैं । मान्यता है कि जिस पर शनि की दृष्टि हुई, उसका सर्वनाश होते देर नहीं लगती । वास्तव में यह सच नहीं है । शनिदेव सूर्य के पुत्र तथा न्यायदाता हैं … Read more

शनि और विवाह में विलम्ब

शनि और विवाह में विलम्ब: :-

शनि और विवाह में विलम्ब : विवाह में विलम्ब : सप्तम भाव को विवाह एवं जीवनसाथी का घर कहा जाता है । इस भाव एवं इस भाव के स्वामी के साथ ग्रहों की स्थिति के अनुसार व्यक्ति को शुभ और अशुभ फल मिलता है । विवाह में विलम्ब में सप्तम शनि का प्रभाव: सप्तम भाव … Read more

कंटक शनि का समाधान :

कंटक शनि :

कंटक शनि : कंटक शनि : “कंटक शनि” एक ज्योतिष शब्द है जिसका अर्थ होता है कि जब शनि ग्रह किसी कुंडली में अन्य ग्रह के साथ या अवश्यक स्थान पर प्रवृत्त होता है, तो उस समय व्यक्ति को जीवन में कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है । यह ग्रहों के बीच आकर्षण और संघर्ष … Read more