कौवा का शरीर पर बैठने सम्बन्धी बिचार

Kauva

Kauva ka shareer par baithne sambndhi bichaar : 1. यदि कौआ किसी धनबान ब्यक्ति के मस्तक पर आ बैठे तो उसके धन का नाश हो जाता है । 2. यदि कौआ किसी के दायें कंधेपर आ बैठे तो उसकी मृत्यु हो जाती है । 3. यदि कौआ किसी के बांये कंधेपर आ बैठे तो उसका … Read more

स्वस्तिक के टोटके का उपयोग कैसे करें ?

स्वस्तिक के टोटके एवं उपाय :

स्वस्तिक के टोटके एवं उपाय : स्वस्तिक एक प्राचीन धार्मिक चिन्ह है जो भारतीय संस्कृति में अत्यधिक महत्व रखता है । इस चिन्ह का उपयोग धार्मिक और आध्यत्मिक आदर्शो के साथ साथ घर की सुरक्षा , समृद्धि और शुभता के लिये भी किया जाता है ।स्वस्तिक टोटके और उपाय , इस चिन्ह के पावरफुल मान्यताओं … Read more

श्री गणेश सिद्धि एबं पूजन :

श्री गणेश सिद्धि एबं पूजन :

श्री गणेश सिद्धि एबं पूजन : श्री गणेश सिद्धि : गणेश रिद्धि सिद्धि पूजन के देबता है । प्रत्येक कार्य प्रारंभ करने से पूर्ब गणेश पूजन का रिबाज प्रत्येक हिन्दु परिबार में है। गणेश को ही गणपति कहते है ।“स्वस्तिक” गणपति का रूप माना जाता है । गणेश की पूजा में स्वस्तिक या गणेश जी … Read more

श्री दुर्गा सप्तशती स्तम्भन मंत्र :

श्री दुर्गा

श्री दुर्गा सप्तशती स्तम्भन मंत्र : श्री दुर्गा मंत्र – “अहं बिभूत्या बहुभिरिह रूपैर्यदास्थिता । तत्संहंत मयैकैब तिष्ठाम्याजौ स्थिरो भब ।।” 1. जल बर्षा स्तम्भन – उपर्युक्त श्लोक में “ह्लीं” का सम्पुट लगाकर पाँच माला मंत्र का जप करे । इससे जल प्रबाह अथबा बर्षा का स्तम्भन होता है । 2. चित स्तम्भन – उपर्युक्त … Read more

भूतिनी साधन मंत्र :

भूतिनी

भूतिनी साधन मंत्र : भूतिनी तंत्र ग्रन्थों में 8 प्रकार की मुख्य भूतानियाँ कही गई हैं – (1) कुण्डलबती ,(2) सिन्दूरिणी, (3) हारिणी, (4) नटी, (5) महा नटी, (6) चेटीका, (7) कामेश्वरी एबं (8) कुमारिका ये सभी भुतनियाँ सिद्ध हो जाने पर साधक की इच्छानुसार पत्नी, बहन अथबा माता के रूप में दर्शन देकर, उसके … Read more

कन्कालिनी साधन :

कन्कालिनी साधन

कन्कालिनी साधन : कन्कालिनी साधन मंत्र :“क्रीं क्रीं कालिके कंकालि स्वाहा ।” कन्कालिनी साधन बिधि – दिन के समय नदी तट पर जाकर स्नान कर, दिव्य पुष्प, माँस, मद्य, रक्त आदि उपहारों तथा नृत्य गीतादि सहित कुलदेबी का पूजन करें । फिर कुलनरस का पान करके, उक्त मंत्र को 2000 की संख्या में जपे । … Read more