भाग्योदय
जाने कहा होगा आपका भाग्योदय ?
February 23, 2024
दिल
जाने आखिर किन ग्रहों स्थितियों की वजह से दो दिल टूट जाते हैं :
February 23, 2024
जाने , इश्क में क्यों मिलता है बार बार धोखे :

जाने , इश्क में क्यों मिलता है बार बार धोखे :

इश्क : कहते हैं कि प्यार/इश्क अंधा होता है और जब इंसान प्यार/इश्क में पडने के बाद अचानक धोखा खाता है तो उसके पैरों तले जमीन खिसक जाती है । लेकिन इस परिस्थिति में घबराने,निराश होने, गलत कदम उठाने की बजाय अनुभवी ज्योतिषी से अपनी कुंडली में ग्रहों की स्थिति दिखवा लेनी चाहिए । दरअसल प्यार/इश्क में धोखे मिलने के पीछे भी ग्रहों की चाल,स्थिति होती है । आपको बता देते हैं आखिर कुंडली में किन ग्रह स्थिति के कारण प्रेम संबंधों में धोखा मिलता है ।
• ज्योतिष के अनुसार प्रेम संबंधों को पनपाने के लिए मुख्य रूप से राहु उत्तरदायी माना जाता है ।
• अगर किसी युवक या युवती को प्रेम संबंध में बार-बार धोखा मिल रहा है तो समझ लेना चाहिए कि उसकी कुंडली में सप्तम भाव में ग्रहों की स्थिति ठीक नहीं है ।
• शनि, राहु-केतु व मंगल ग्रह को प्यार-प्रेम के मामले में अलगाव पैदा करने वाला माना गया है ।
• यदि प्रेम संबंधों में अचानक दरार आ जाए तो इसे केतु का अशुभ प्रभाव माना जाता है ।
• जब प्रेमी-प्रेमिका को समाज के डर से छिप-छिपकर मिलना पड़ता है तो राहु का प्रभाव ही माना जाता है ।
• शादी के बाद युवक या युवती का प्रेम संबंध बनना जो भविष्य में नुकसानदेह साबित भी हो सकते हैं लेकिन सब जानने के बाद भी प्रेमी इस जाल में फंस इसे ही अपना जीवन समझ बैठता है तो यह सब भी राहु के प्रभाव से होना माना जाता है ।
• जीवन में अगर किसी व्यक्ति को एकतरफा प्रेम हो जाता है तो यह राहु की वजह से ही माना जाता है और इस दौरान व्यक्ति अकेला ही तडप कर दुख उठाता है ।
• प्रेम संबंधों में अगर झूठ,छल का सहारा लिया जा रहा है तो इसे राहु का अशुभ प्रभाव ही माना जाता है ।
• जन्म कुंडली में राहु व केतु के दोष के उपाय कर प्रेम संबंधों में इन धोखों से बचा जा सकता है ।

To know more about Tantra & Astrological services, please feel free to Contact Us : 9438741641 (Call/ Whatsapp)

ज्योतिषाचार्य प्रदीप कुमार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *