शक्तिशाली सुलेमानी मंत्र : “हज़रत पैगम्बर अली कि चौकी”
शक्तिशाली सुलेमानी मंत्र : “हज़रत पैगम्बर अली कि चौकी”
March 23, 2024
गर्भ स्तम्भन मंत्र
गर्भ स्तम्भन मंत्र क्या है?
March 23, 2024
गर्भ रक्षा हेतु अनुभूत चमत्कारी प्रयोग :

गर्भ रक्षा हेतु अनुभूत चमत्कारी प्रयोग :

गर्भ रक्षा हेतु : आजकल की दुनिया में ऐसे लोग है जो गर्भावस्था में होने वाले बच्चे पर बुरी नज़र रखते है और बच्चे और माँ को नुक्सान पहुँचाना चाहते है और जो महिला बार – बार गर्भपात का शिकार हो जाती है वे गर्भवती होने के बाद ये गर्भ रक्षा हेतु अनुभूत चमत्कारी टोटके करके लाभ उठावें…
 
१. गाये के दूध में पदमाख , लाल चन्दन , खस इन तीनो को बराबर मात्रा में मिलकर पीस ले एक – एक टोला ५ दिन खाने से गर्भपात नहीं होता ।
२. मुलहठी देवदारु , सिरस का बिज काली गाये के दूध के साथ पीसकर ५ दिन पिने से गर्भपात नहीं होता है ।
३. सिद्ध महामूर्त्युनजय यन्त्र धारण करने से गर्भ गिर ही नहीं सकता ।
गर्भ रक्षा हेतु अनुभूत प्रयोग :
अगर किसी माता और बहन का गर्भपात होता हो तो, उनकी गर्भ रक्षा हेतु जितनी लम्बाई हो उतनी मौलि लेवे । उस मौलि पर देव्याकवच का 11 बार पाठ करते हुए अभिमन्त्रित करे । यानी प्रत्येक मंत्र बोलते हुए मौलि पर फुंक मारे । उस मौलि पर 9 गांठ लगा दे यह प्रयोग शुक्रवार को करना है । शुक्रवार की रात्री को उस मौलि को किसी भी देवी के मंदिर में पुजारी को देवी की कमर में बांधने के लिये कहे । और शनिवार को सुबह मौलि को लाकर अपनी कमर में बांध ले इससे गर्भ स्तंभित हो जाता है । यह गर्भ रक्षा हेतु एक सुपरिक्षित अनुभूत प्रयोग है ।

सम्पर्क करे: मो. 9937207157/ 9438741641 {Call / Whatsapp}

जय माँ कामाख्या

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *