गर्भपात
जन्मकुंडली के अनुसार जानिए क्यों होता है गर्भपात :
March 23, 2024
सपने में तुलसी देखना :
सपने में तुलसी देखना क्या होता है ?
March 23, 2024
देवी कृत्या सिद्धि साधना :

देवी कृत्या सिद्धि साधना :

देवी कृत्या साधना एक उच्चकोटि का साधना है । शत्रु नाशक, हर आपद नाशक और जो भी आपद बिपद सब का नाश होता है । कारोबार और किसी भी चिज पर वाधा आ रही हो तो कृत्या का उपासना से हर वाधा दुर होता है ।
कृत्या सिद्धि होने पर धन की कमी नही रहता है । देवी साधक का रक्षा के साथ उसका परिवार का भी रक्षा करती है । जीसको कृत्या का कुपा प्राप्त हो उसका अपमूत्यु नही होता है।कृत्या साधना सिद्धि होने पर शत्रुओँ पर विजय प्राप्त करने वाला और मन से ,तान से अतिवालसाली हो जाता है । देवी को जो काम करने को बोला जाए वह खुशि खुशि उस काम को कर देती है, चाहे वह बुरा काम हो या अच्छा काम हो । साधक जीस तरहा का नौकरी या जीस वश्तू का चाहत करता है, देवी उस मनोकामना को मिनटो मेँ पुर्ण कर देती है । देवी के कुपा प्राप्ति के बाद साधक भोगविलास का जीवन जीने के बाद ही, कृत्या देवी के शरीर मेँ विलिन हो जाता है ।
साधना करने के लीए साधक कला वस्त्र का उपयोग करेँ और दक्षिण देशा के और मुँह कर बैठ जाए । आसन मेँ, काले कपडा ले।कडवे तेल का एक दीपक जालाकर अपने आगे रखे।साधना पुर्ण होने तक बह्मचर्य का पालन करेँ । साधना 21 दिन चालेगा।जब साधना पुर्ण होगा तब देवी दर्शन देगी ।
देवी कृत्या मंत्र : “ॐ कृत्या सर्व शत्रुणाँ मारय मारय हन हन ज्वालय ज्वालय जय जय साधक प्रिये ॐ स्वाहा॥”

सम्पर्क करे: मो. 9937207157 / 9438741641  {Call / Whatsapp}

जय माँ कामाख्या

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *