चंद्रज्योत्सना अप्सरा साधना :
चंद्रज्योत्सना अप्सरा साधना कैसे करें ?
April 28, 2024
मृतवत्सा हनुमान मंत्र
मृतवत्सा हनुमान मंत्र क्या है ?
April 29, 2024
मन्त्र :
“ॐ नमो काला भैरूं घंघरावाला । हाथ खड़ग , फूलों की माला । चौंसठ योगिन सङ्ग में , चोला देखो खोलि नजर का ताला । राजा – परजा ध्यादै तोहिं , सबकी दष्टि बाँधि दे मोहिं । मैं पूजो तुमको नित ध्याय , राजा – परजा मेरे पाय लगाय । भरी अथाई सुमिरौं तोहिं , तेरा किया सब कुछ होय । देख भैरों , तेरे मन्त्र की शक्ति । चले मन्त्र , ईश्वरो वाचा । शब्द साचा , पिण्ड काचा । फुरो मन्त्र , ईश्वरो वाचा ।”

नजर बांधने का मंत्र विधि :

रविवार के दिन श्मशान में जाए और एक चुटकी भस्म लाए । २१ बार मन्त्र जपे तथा विधि – पूर्वक भैरो जी का पूजन करे । भैरो जी को प्रसन्न करने के उपरान्त भस्म को उक्त मन्त्र से अभिमन्त्रित करे और चुटकी से भरी सभा में उड़ाए । इससे सबकी नजर बँध जाएगी ।
To know more about Tantra & Astrological services, please feel free to Contact Us :
ज्योतिषाचार्य प्रदीप कुमार (मो.) 9438741641/ 9937207157 {Call / Whatsapp}
जय माँ कामाख्या

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *