सिग्नेचर
जानें कैसे आपका एक सिग्नेचर आपका जीवन बदल सकता हैं ?
May 13, 2024
दान
10 चीजें जो दान करने के समय ध्यान रखें
May 14, 2024
नया साल 2025 में धन और सुख पाने के कैसे उपाय करें?

नया साल 2025 में धन और सुख पाने के 21 अचूक उपाय :

नया साल 2025 सबके लिए खुशियां लेकर आए यही कामना है हमारी । नए साल 2025 पर पेश है कुछ ऐसी अहम सावधानियां जिन्हें अपना कर हम साल भर को शुभ बना सकते हैं । पूरे साल में हमारा हर दिन खूबसूरत हो, हर दिन मंगलमयी हो। जानिए वे कौन सी 21 बातें हैं जिनसे हमारा जीवन खुशहाल बन सकता है-
1. जहां स्वच्छता तथा सुगंध हो, वहां लक्ष्मी का वास माना जाता है । अत: रहने का स्थान तथा कार्य का स्थान स्वच्छ एवं सुगंधित हो, ऐसा प्रयत्न करना चाहिए । नया साल 2025 के पहले दिन घर को स्वच्छ करें ।
2. घर में गौमूत्र, नमक तथा फिटकरी मिलाकर नित्य पोंछा लगाना चाहिए जिससे नेगेटिव एनर्जी उत्पन्न न हो । नया साल 2025 में वस्त्रादि स्वच्छ रखने के साथ इत्र-स्प्रे इत्यादि का इस्तेमाल करना चाहिए ।
3. नया साल 2025 के पहले दिन, जन्मदिन, विवाह की वर्षगांठ पर पूजन-अर्चन करना चाहिए ।
4. नया साल 2025 के वर्षारंभ में कुछ अच्छा करने का संकल्प लेकर वर्षांत तक उसे पूर्ण करने का पूरा प्रयास करें ।
5. नया साल 2025 में वृक्ष-पौधे लगाकर सेवा करें । अपने नक्षत्र की वनस्पति तथा राशि की वनस्पति पर यह प्रयोग अत्यंत लाभकारी होता है ।
6. स्वयं को स्वस्थ रखने के लिए नया साल 2025 में नित्य एक माला महामृत्युंजय की अवश्य करें । 40 दिन बाद से परिणाम दिखने प्रारंभ हो जाएंगे ।
7. जिन व्यक्तियों को कर्ज से राहत न मिल रही हो या खर्च ज्यादा हो, आवक कम हो, वे लक्ष्मीजी का कोई भी मंत्र नया साल 2025 में प्रारंभ कर दें । दीपावली पर इसके हवन इत्यादि कर ऐश्वर्य, लाभ प्राप्त कर सकते हैं ।
8. नया साल 2025 में गुरु दीक्षा लेने की इच्छा हो, व विद्वान से सलाह लेकर इस समय का लाभ उठा सकते हैं ।
9. जिन पत्रिकाओं में कालसर्प दोष हो, वे शिवरात्रि को इसका पूजन करा लें । शिवरात्रि प्रशस्त दिन माना गया है ।
10. जिन व्यक्तियों को राज्य से या बड़े व्यक्तियों से कार्य में अड़चन आ रही हो, वे एक माला मकर संक्रांति से नित्य करें ।
मंत्र- “ॐ नमो भास्कराय त्रिलोकात्मने। महपति वश्यं कुरु-कुरु स्वाहा ।।”
11. जिन व्यक्तियों के किसी भी कार्य में रुकावट हो, वे बसंत पंचमी से नित्य एक माला करें ।
मंत्र- “ॐ श्रीं श्रीं ॐ ॐ श्रीं श्रीं हूं फट् स्वाहा।।”
12. जिन्हें ज्ञान की आवश्यकता हो, वे पंचाक्षरी शिवमंत्र शिवरात्रि से रात्रि 10 से 12.30 बजे तक पैरों को पानी में डुबाकर जप नित्य करें- ‘ॐ नम: शिवाय ।।’
13. राहु ग्रह से परेशान व्यक्ति संक्रांति से प्रत्येक शनिवार पानी वाले नारियल अपने ऊपर से उतारकर बहते शुद्ध जल में बहाएं, अगली संक्रांति तक ।
14. केतु ग्रह से परेशान व्यक्ति तेल लगाकर प्रत्येक शनिवार काले कुत्ते को रोटी खिलाएं तथा गणेश अथर्वशीर्ष का पाठ नित्य करें ।
15. जो लोग कालसर्प दोष से पीड़ित हों, वे नाग गायत्री का जप शिव मंदिर में या पीपल के नीचे बैठकर शिवरात्रि से नित्य करें-
‘ॐ नवकुलाय विद्महे विष दन्ताय धीमही तन्नो सर्प: प्रचोदयात् ।।’
16. जो विद्यार्थी पढ़ने में कमजोर हों, स्मरण शक्ति कम हो, व सरस्वती के चित्र के सामने बैठकर नित्य एक माला बसंत पंचमी से करें- ‘ॐ ह्रीं ऐं ह्रीं ॐ सरस्वत्यै नम:।।’
17. भय होने पर हनुमान मंत्र ‘ॐ ऐं ह्रीं हनुमते रामदूताय नम:’ संक्रांति से नित्य जपें । हनुमानजी का पूजा हर मंगलवार और शनिवार को करें ।
18. शनि ग्रह से परेशान व्यक्ति काली गाय की सेवा नित्य करें । प्रत्येक शनिवार काले चने का भोग शनिदेव को लगा कर रुद्राक्ष की माला से जपे शनिमंत्र ।
साल 2025 में जपें शनिदेव के ये 10 नाम- कोणस्थ, पिंगल, बभ्रु, कृष्ण, रौद्रान्तक, यम, सौरि, शनैश्चर, मंद और पिप्पलाद
19. शाम के समय काले तिल के तेल का दीपक लगाकर शनि दोष से मुक्ति के लिए भैरवजी की प्रार्थना करें और लाल चन्दन की माला को अभिमंत्रित कर पहनने से शनि के अशुभ प्रभाव कम होगा ।
20 . अगर आपके ऊपर साल 2025 में शनि की साढ़ेसाती, ढय्या या महादशा चल रही हो तो इस दौरान मांस, मदिरा का सेवन न करें ।
21 . रोज गाय को चोकर युक्त आटे की 2 रोटी खिलाएं। साल 2025 में शनि जयंती के दिन मछलियों को दाना खिलाएं। प्रत्येक शनिवार /अमावस्या पर को काले कुत्ते और बंदरों को बूंदी के लड्डू खिलाने से आपका मंगल होगा । सारे संकट से दुर रह्ने केलिये रोज आप दुर्गा सप्तसती चंडी पाठ किजिये या फिर किसी बिद्वान पंडीत से करबाये, और हमेशा मा, बेहेन कन्या लोग को आदर सन्मान करे ।

To know more about Tantra & Astrological services, please feel free to Contact Us :

ज्योतिषाचार्य प्रदीप कुमार (मो.) 9438741641 /9937207157 {Call / Whatsapp}

जय माँ कामाख्या

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *