लिंगदोष निबारण मंत्र :
लिंगदोष निबारण मंत्र
April 28, 2024
चंद्रज्योत्सना अप्सरा साधना :
चंद्रज्योत्सना अप्सरा साधना कैसे करें ?
April 28, 2024
स्तंभन मंत्र

स्तंभन मंत्र क्या है?

स्तंभन मंत्र : “ओम नम: भैरबाय महाकाल रुद्राय नम:
ओम नम: कामदेबाय कं कं कां कां कि फट् स्वाहा ।”

स्तंभन मंत्र का जाप करने की विधि :

इस स्तम्भन मंत्र को 41000 बार जपने से यह सिद्ध होता है । इसका जप आधी रात को निर्बस्त्र होकर किया जाता है ।
 
एसे किसी ब्यक्ति द्वारा , जो इस मंत्र को सिद्ध किये हुए हो, एक घोडे की नाल की अंगूठी सिद्ध करबायें और उससे मंत्र दान लेकर एक छिपकली की पूंछ का नुकीला हिस्सा प्राप्त करें । उसे अंगूठी में भरकर मध्यमा में पहनें । रति करें । जब तक अंगूठी रहेगी, स्खलन नहीं होगा । शरीर ही थक सक्ता है । इसके लिये बलबर्धक उपाय करें । प्रत्येक दो दिन पर पुंछ बदल दें ।

सम्पर्क करे (मो.) 9438741641/ 9937207157 {Call / Whatsapp}

जय माँ कामाख्या

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *