अनुभूत सुलेमानी जिन साधना :

अनुभूत सुलेमानी जिन साधना :
सभी तंत्रो में तीक्ष्ण सुलेमानी तंत्र को माना गया है !क्यू के इस में सिद्धि जल्द और तीक्ष्ण होती है ! जिन का नाम सुनते ही क्यी ड़र जाते है !पर यह बहुत ही चमत्कारी साधना है !डरने की जरूरत नहीं है !इसे दृर चित होकर करे !जिन जहां खतरनाक ताकत है वही जिन खुदा की नेक ताकतों में से एक है !अगर इसको सही ढंग से करे तो सभी हासिल कर सकते है !और अपने शत्रु को प्रसत भी कर सकते है !इन ताकतों का दुरुपयोग होने के कारण इन्हे बदनाम कर दिया गया है!यह खुदा के समान ताकतवर जिन है और नेक बंदो की मदद करके खुश होता है !इस लिए करने से पहले अपने मन को अच्छी तरह तयार कर ले !
क्या आप गुरवत से पूरी तरह घिर गए है ?
क्या कर्ज में फसते जा रहे है ?
क्या शत्रु के षड्यंत्र का वार वार शिकार हो रहे है ?
क्या रोजगार के सभी रास्ते बंद हो गए है?
तो एक वार इस साधना को करे और फिर देखे कितना चेंज आता है आप की ज़िंदगी में !यह एक बहुत ही पाक पंज तन पाक का कलाम है !इसे पूर्ण पावित्रता से करे !
जिस कमरे में आप साधना कर रहे हो उसे साफ करे पोचा वैगरालगा कर धो ले फिर शूकल पक्ष के पर्थम शूकरवार { नोचन्दे }को इस साधना को शुरू करे और 21 दिन करनी है ! नोचन्दे शूकरवार से शुरू कर 21 दिन करनी है!
वस्त्र सफ़ेद पहने और सफ़ेद आसान का उपयोग करे ! दिशा पशिम और इस तरह बैठे जैसे नवाज के वक़्त बैठा जाता है ! सिर टोपी जा सफ़ेद रुमाल से ढक कर बैठे अगरवाती लगा दे और साधना के वक़्त जलती रहनी चाहिए दिये की कोई जरूरत नहीं है !फिर भी लगाना चाहे तो तेल का दिया लगा सकते है !सर्व पर्थम गुरु पूजन कर आज्ञा ले फिर एक माला गुरु मंत्र करे और निमन मंत्र की पाँच माला जप सफ़ेद हकीक माला से करे साधना के बीच बहुत अनुभव हो सकते है !मन को सथिर रखते हुए जप पूर्ण करे !जिस कमरे में साधना कर रहे हो व्हा कोई शराब पीकर न आए इस बात का विशेष ख्याल रखे !जप उल्टी माला से करे न माला हो तो एक घंटा करे !
साबर मंत्र –
“बिस्मिल्ला हे रेहमान ए र्र्हीम
उदम बीबी फातमा मदद शेरे खुदा ,
चड़े मोहमंद मुस्तफा मूजी कीते जेर ,वरकत हसन हुसैन की रूह असा वल फेर !”
एक करबा करेला ले उस में हिंग भर दे और गाँव जा शहर के बाहर जा कर खुले मदान में इस साधना को करे !करेला हाथ में लेकर पशिम मुख खड़े हो जाए उस से पहले सुलेमानी रक्षा मंत्र से अपने चरो और एक घेरा खीच ले !
रक्षा मंत्र : – {आयतुल कुर्सी क्श कुरान आगे पीछे तू रेहमान धड़ रखे खुदा सिर रखे सुलेमान !!}
यह मंत्र 11 वार पढ़ कर रक्षा चक्र लगा ले और फिर गुरुदेव से प्रथना करके मंत्र शुरू करे एक घंटा मंत्र जप करना है ,उस के बाद करेले को पशिम की तरफ फेक देना है और घर आके मुह हाथ धो ले यह कर्म 21 दिन करना है रोज करेला नया लेना है !21 वे दिन जा साधना पूरी होते जिन परकट हो जाएगा और आप से नेकी के तीन सवाल पुछेगा अगर आपने सही जबाब दे दिया तो आफ़रीन आफ़रीन तीन वर कहेगा और आपको जो चाहिए वोह धन दोलत और परी जो भी आप कहेगे हजार कर देगा अगर जबाब न सही दे पाये तो चला जाएगा और फिर दुवारा आपके बुलाने पे नहीं आएगा इस लिए सभी सवालो का उतार सोच समझ कर दे !यह जिन नेकी पसंद है और कुछ देने से पहले आपकी परीक्षा जरूर लेता है !पास होने पर आपको माला माल कर देता है और मिली इमदाद से दसवा हिसा गरीबो की हेल्प में लगा दे तो आप की नेकी के बदले आपको बहुत कुछ देगा और आप जब भी पुकारे गे हजार हो कर आपके काम करेगा काम होने पर हलवा उसे दे जो शुद घी से घर में बनाया हो !और जब तक साधना कर रहे हो लशन प्याज का प्रयोग बंद कर दे !और दूध से बना खाना सेवन करे ,मन को साफ रखे !यह बहुत ही पावर फुल जिन है !
मंत्र : {{ ऐन उल हक ये जेतान !!}}
चेतावनी –
साधनाकाल में भयावह स्थितिया बन सकती हैं ,बिन गुरु अनुमति और बिन सुरक्षा कवच कभी भी साधना नहीं करनी चाहिए | यहाँ देखकर कभी साधना नहीं करनी चाहिए ,क्योकि जो गोपनीय तकनीक है वह केवल गुरु देता है और उसके अनुसार ही साधना करनी चाहिए |
To know more about Tantra & Astrological services, please feel free to Contact Us :
ज्योतिषाचार्य प्रदीप कुमार: मो. 9438741641  {Call / Whatsapp}
जय माँ कामाख्या

Leave a Comment