अघोर काली मंत्र

Aghor Kali Mantra

Aghor Kali Mantra : मंत्र – ओम गांब के पछिम पीपर के गाछ ,ताहि चढि काली करे हाँक । नगन में पूजै चक्र, महा-मांस भखै । आपन जियाबे, पराया खाय ।एनैकर दीठ, ओने कर पीठ । बायें चारों काली । सत्य छोड असत्य भाखै, असिया कोट नरक में परइ । सत्य प्रत्यख्य ।।   Aghor … Read more

कपाल सिद्धि अभ्यास क्या है ?

कपाल सिद्धि अभ्यास :

कपाल सिद्धि अभ्यास क्या है ? कपाल सिद्धि के लिए कभी भी इसलिए प्रयंत्न न करें कि इससे आपको शक्ति मिलेगी । शक्ति तो एक नही अनेक मिलेगी । अतींद्रिय ख्यमताएं चमत्कारिक हो जायेंगी, परंन्तु इन सबका कोई अर्थ ही नही रह जायेगा । इछा ही समाप्त हो जायेगी । भौतिक जगत स्वप्न सा लग्ने … Read more

ओघडनाथ बशीकरण तंत्र

ओघड्नाथ बशीकरण तंत्र :

ओघडनाथ बशीकरण तंत्र : बशीकरण तंत्र मंत्र : “ओम क्रं क्रां क्रीं क्रिं चामुण्डाय ॐ क्रं क्रं क्रं ठं ठं ठं लं…. मम बशीभूत कुरु कुरु फट् स्वाहा ।” पहला बशीकरण तंत्र : चंद्रग्रहण के समय बिष्णुकांता की जड लाकर उसे उक्त मंत्र द्वारा 108 बार अभिमंत्रित करे, फिर उसका अंजन आंखो मे लगाकर जिस … Read more

कामाख्या कवच

कामाख्या कवच

कामाख्या कवच : कामाख्या कवच माँ कामाख्या देवी को समर्पित हैं । कामाख्या कवच के भगवान शिव जी रचियता है । कामाख्या कवच को नियमित रूप से पाठ करने से जातक के ऊपर किसी तरह का तांत्रिक प्रभाव, बुरी नज़र का प्रभाव, काला जादू का प्रभाव नही होता हैं । भगवती कामाख्या का परम गोपनीय … Read more

कामाक्षायाष्टक

Kaamaakshaayaashtak

Kaamaakshaayaashtak : कामाख्याष्ट्क एक भक्तिमय रचना है जो देवी कामाक्षी की स्तुति करती है । यह kaamaakshaayaashtak संस्कृत भाषा में लिखी गई है और इसमें आठ श्लोक शामिल है ।इस kaamaakshaayaashtak स्त्रोत की रचना किसने की है , इसका कोई निश्चित प्रमाण नहीं हैं , लेकिन कुछ बिद्वान का मानना है की इसकी रचना आदि … Read more

शाबर महाकाली साधना कैसे करें ?

शाबर महाकाली साधना :

शाबर महाकाली साधना कैसे करें ? मंत्र सिद्ध है फिर भी मन मे येसा कुछ ना आये के मुज़े अनुभव कैसे मिलेगा ईसलिये किसी भी मंगलवार के दिन शाम को 6:30 से 7:30 के समय मे शाबर महाकाली साधना मंत्र का 108 बार जाप कर लिजिये और 21 आहुती घी का दे , साथ मे … Read more

दारिद्र नाशक अघोर प्रयोग कैसे करें ?

दारिद्र नाशक अघोर प्रयोग

दारिद्र नाशक अघोर प्रयोग कैसे करें ?  अमावस्या या पूर्णमासी पर राई, उडद, कोयला, लालमिर्च (खडी), सिताब का पंचांग, लोहे का टुकडा,पीली सरसो, 2 कौडी, गोमती चक्र फूल व एक लोटा जल लेकर आवास की चार परिक्रमा कर जल व सभी सामग्री पीपल की जड मे छोड आवेँ । धनागमन के मार्ग खुल जावेँगेँ । … Read more

अघोर तंत्र में मारण क्रिया

अघोर तंत्र में मारण क्रिया

अघोर तंत्र में मारण क्रिया : अघोर तंत्र की सबसे खतरनाक क्रियाओ में से एक क्रिया है मारन क्रिया । इस क्रिया में अघोर तंत्र के द्वार किसी भी व्यक्ति की जीवन लीला समाप्त कर सकते है । इस क्रिया का उपयोग कुछ लोगो द्वारा अपने दुश्मनो को खत्म करने के लिए किया जाता है … Read more

कर्ण पिशाचिनी शूकर दंत साधना

Karna Pisachini

Karna Pisachini Sukar Dant Sadhana : इस साधना का त्वरित प्रभाव होता है । विशेष लाभ यह है कि इसका कोई प्रतिकूल प्रभाव नहीं होता है । क्योंकि सिद्धि प्राप्त कर लेने के पश्चात साधक इतना शक्ति सम्पन्न हो जाता है कि कोई भी संकट उसे छू नहीं पाता । इस साधना का प्रारंभ सावन … Read more