रत्नेश यक्ष
रत्नेश यक्ष साधना :
January 21, 2024
कामेश यक्ष साधना
कामेश यक्ष साधना :
January 21, 2024
बास्तु पति साधना

बास्तु पति साधना :

बास्तु पति साधना : नाना प्रकार की बिद्एं इस लोक में प्रकट हुई । ये बिद्याधरों से ही प्रकट हुई । इनकी उपासना से भी नाना प्रकार के सद्गुण, बिद्याएं, धर्म में रूचि, प्रभुभक्ति और बल तथा सुमति की प्राप्ति होती है ।

परिचय : बिद्याधरों का लोक गंधर्बलोक से कुछ ऊपर है ,इसीलिए ये जरा देर से आ पाते हैं । यद्द्पि कि इनकी आराधना का सामान्यक्रम भी यक्षो ,गंधर्बो जैसा ही है । शेष अनुष्ठान में बिद्याधर पूजा और जप ही भिन्न है परंतु इनकी उपासना प्राय: शिब मन्दिर में होती है और इनके स्वामी बिद्यापति भगबान शिब स्वयं हैं । ४४ हजार करोड बिद्याधर बिद्यालोक में बसते हैं, ऐसा कहा गया है ।

कतिपय बिद्याधर में बास्तु पति बिद्याधर भी हैं । इनके अलाबा भी अन्य अनेकों बिद्यापति या बिद्याधर हैं जिनकी साधनाएं इस देश में प्रचलित रही हैं परंतु अब लुप्तप्राय: हैं । शायद यही कारण है की देश इतना भटकाब और त्राहिमाम् के दौर में है । काश एक बार पुन: हमारा देश उसी गति में आ जाए तो क्या न हो जाए ।

बास्तु पति साधना मंत्र : ॐ बास्तुपति बिद्यापति हुं हुं ।।

अनुष्ठान : पूर्णमासी से आरम्भ करें पूर्बोक्त बिधान के बाद नित्य रात्रि में ११ माला जप करें। ४५ दिन तक पूजादि पूर्बबत् करें । ४५ बें दिन स्वयं सिद्धि का पता साधक को चल जाएगा। इसके बाद भी नित्य पूजन जप एक्माला करते रहने से बास्तु रहस्य का ज्ञान होता है ।

प्रभाब : पूजन जप एकमाला करते रहने से बास्तु रहस्य का ज्ञान होता है । धन कमाने पर ज्ञान जाता रहता है ।

Facebook Page

नोट : यदि आप की कोई समस्या है,आप समाधान चाहते हैं तो आप आचार्य प्रदीप कुमार से शीघ्र ही फोन नं : 9438741641{Call / Whatsapp} पर सम्पर्क करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *