नजर उतारने का मंत्र
नजर उतारने का मंत्र
April 30, 2024
कर्ण पिशाचिनी शूकर दंत साधना
कर्ण पिशाचिनी शूकर दंत साधना
April 30, 2024
आज हम आप को बूरी नजर उतारने के उपाय के बारे में बताऊंगा जिस की मदद से आप बूरी नजर उतर सकते है । वैसे नजर बड़े, बूढ़े और बच्चो किसी को भी लग सकती है । कुछ लोगो का मानना है की बूरी नजर आपके व्यापार, दूकान और घर में भी लग सकती है, हालाकी घर और दूकान को नजर से बचाने के लिए निम्बू-मिर्च का टोटका कभी कारगर साबित होता है । हम सभी में बहुत सी सोई हुई शक्तियां हैं जो किसी विशेष परिस्थति में जागती हैं । अक्सर किसी विशेष समय में बूरी नजर या बद्दुआ लग जाती है, ये एक नकारात्मक उर्जा है जो आँखों के ज़रिये बाहर आती है । यदि आप भी किसी ऐसी ही परेशानी का सामना कर रहे है, तो आप घर बैठे ही बूरी नजर उतारने के उपाय कर सकते है, इन बहुत ही कामयाब और आसान उपायों से….

बूरी नजर उतारने के उपाय :-

1:-एक लोटे में पानी लेकर उसमें नमक, खड़ी लाल मिर्च डालकर आठ बार उतारे। फिर थाली में दो आकृतियाँ- एक काजल से, दूसरी कुमकुम से बनाए । लोटे का पानी थाली में डाल दें । एक लम्बी काली या लाल रङ्ग की बिन्दी लेकर उसे तेल में भिगोकर ‘बूरी नजर’ वाले पर उतार कर उसका एक कोना चिमटे या सँडसी से पकड़ कर नीचे से जला दें । उसे थाली के बीचो-बीच ऊपर रखें । गरम-गरम काला तेल पानी वाली थाली में गिरेगा । यदि बूरी नजर लगी होगी तो, छन-छन आवाज आएगी, अन्यथा नहीं ।
2: नमक, राई के दाने, पीली सरसों, मिर्च, पुरानी झाडू का एक टुकड़ा लेकर ‘बूरी नजर’ लगे व्यक्ति पर से ‘आठ’ बार उतार कर अग्नि में जला दें । ‘बूरी नजर’ लगी होगी, तो मिर्चों की धांस नहीँ आयेगी ।
3: फिटकरी की डली को, 7 बार बच्चे/बड़े/पशु पर से 7 बार उबार कर आग में डालने से बूरी नजर तो दूर होती ही है, नजर लगाने वाले की धुंधली-सी शक्ल भी फिटकरी की डली पर आ जाती है ।
4 : पश्चिमी देशों में नजर लगने की आशंका के चलते ‘टच वुड’ कहकर लकड़ी के फर्नीचर को छू लेता है । ऐसी मान्यता है कि उसे नजर नहीं लगेगी ।
5: गिरजाघर से पवित्र-जल लाकर पिलाने का भी चलन है ।
6: इस्लाम धर्म के अनुसार ‘बूरी नजर’ वाले पर से ‘अण्डा’ या ‘जानवर की कलेजी’ उतार के ‘बीच चौराहे’ पर रख दें । दरगाह या कब्र से फूल और अगर-बत्ती की राख लाकर ‘बूरी नजर’ वाले के सिरहाने रख दें या खिला दें ।
7: बच्चे ने दूध पीना या खाना छोड़ दिया हो, तो रोटी या दूध को बच्चे पर से ‘आठ’ बार उतार के कुत्ते या गाय को खिला दें ।
8. थोड़ी सी राई, नमक, आटा या चोकर और ३, ५ या ७ लाल सूखी मिर्च लेकर, जिसे ‘नजर’ लगी हो, उसके सिर पर सात बार घुमाकर आग में डाल दें । ‘नजर’-दोष होने पर मिर्च जलने की गन्ध नहीं आती ।
9. एक नींबू लेकर आठ बार उतार कर काट कर फेंक दें ।
10. पुराने कपड़े की सात चिन्दियाँ लेकर, सिर पर सात बार घुमाकर आग में जलाने से ‘नजर’ उतर जाती है ।
11. नमक की डली, काला कोयला, डंडी वाली 7 लाल मिर्च, राई के दाने तथा फिटकरी की डली को बच्चे या बड़े पर से 7 बार उबार कर, आग में डालने से सबकी नजर दूर हो जाती है ।
12. झाडू को चूल्हे / गैस की आग में जला कर, चूल्हे / गैस की तरफ पीठ कर के, बच्चे की माता इस जलती झाडू को 7 बार इस तरह स्पर्श कराए कि आग की तपन बच्चे को न लगे। तत्पश्चात् झाडू को अपनी टागों के बीच से निकाल कर बगैर देखे ही, चूल्हे की तरफ फेंक दें। कुछ समय तक झाडू को वहीं पड़ी रहने दें। बच्चे को लगी नजर दूर हो जायेगी ।
13. तेल की बत्ती जला कर, बच्चे/बड़े/पशु पर से 7 बार उबार कर दोहाई बोलते हुए दीवार पर चिपका दें । यदि नजर लगी होगी तो तेल की बत्ती भभक-भभक कर जलेगी । नजर न लगी होने पर शांत हो कर जलेगी ।
14. जिस स्त्री या पुरुष पर आपको संदेह हो कि उसकी नजर लगी हैं, तो उसका हाथ जिसे नज़र लगी हे उसके सिर पर फिरवा दें । नजर उतर जाएगी ।
15. रविवार के दिन नजर लगे व्यक्ति के सिर से तीन बार दूध उतारकर मिट्टी के पात्र में भर दे और कुत्ते को पिला दें ।
16. शनिवार के दिन हनुमानजी के मदिर से हनुमानजी के कन्धों का सिन्दूर लाना चाहिए और नजर लगे व्यक्ति के मस्तिक पर लगाना चाहिए ।
17. बुरी नजर उतारने के लिए राई के सात दाने , नमक की सात छोटी – छोटी डली , सात साबुन लाल मिर्च नजर से पीड़ित के सिर के उपर से सात बार उतारकर जलती आग में दाल दें । इस क्रिया को करते समय किसी की टोक नहीं होनी चाहिए । ये समस्त कार्य बाएं हाथ से करने चाहिए । आग के लिए लकड़ी देसी आम की होनी चाहिए ।
18. नजर लगे व्यक्ति के उपर से फिटकिरी उतारकर उसे बाएं हाथ से कूट लें और फिर उस चूर्ण को कुएं में दाल देना चाहिए । नजर उतर जाएगी ।
19. लहसुन, बाक, राई, नमक, प्याज़ के छिलके एवं सूखी लाल मिर्च । ये सब नजर लगे बच्चे पर सात बार उतारकर अंगारों पर दाल दें । जलने पर बदबू नं आये तो समझें नजर लगी हैं । इससे नजर उतर जाएगी ।
20. दुकान को नजर लगी हो तो रविवार अथवा मंगलवार के दिन लाल मिर्चे धागे में पिरोएं और बीच में नींबू पिरो दें । फिर इन्हें दुकान के प्रवेश द्वार पर माला की तरह बांध दें । नजर उतर जाएगी ।
21. चाकू से जमीन पे एक आकृति बनाए। फिर चाकू से ‘नजर’ वाले व्यक्ति पर से एक-एक कर आठ बार उतारते जाए और आठों बार जमीन पर बनी आकृति को काटते जाए ।
22. एक साबूत नींबू के उपर काली स्याही से 307 लिख दें और उस व्यक्ति के उपर उल्टी तरफ से 7 बार उतारें । इसके पश्चात उसी नींबू को चार भागों में इस प्रकार से काटें कि वह नीचें से जुड़े रहें । और फिर उसी नींबू को घर से बाहर किसी निर्जन स्थान पा फेंक दें । यह उपाय करने से पीडि़त व्यक्ति शीघ्र ही स्वस्थ्य हो जायेगा ।
23. खाने के समय भी किसी व्यक्ति को नजर लग जाती है । ऐसे समय इमली की तीन छोटी डालियों को लेकर आग में जलाकर नजर लगे व्यक्ति के माथे पर से सात बार घुमाकर पानी में बुझा देते हैं और उस पानी को रोगी को पिलाने से नजर दोष दूर होता है ।
24. लाल मिर्च, अजवाइन और पीली सरसों को मिट्टी के एक छोटे बर्तन में आग लेकर जलाएँ । फिर उसकी धूप बूरी नजर लगे बच्चे को दें । किसी प्रकार की नजर हो ठीक हो जाएगी ।
25. यदि आपने कोई नया वाहन खरीदा है और आप इस बात से परेशान हैं कि कुछ न कुछ रोज वाहन में गड़बड़ी हो जाती है । यदि गड़बड़ी नहीं होती तो दुर्घटना में चोट-चपेट लग जाती है और बेकार के खर्च से सारी अर्थ-व्यवस्था चौपट हो जाती है । अपने वाहन पर काले धागे से पीली कौड़ी बांधने से आप इस बूरी नजर से बच सकेंगे, करके परेशानी से मुक्त हो जाएं ।
26. यदि आपके घर पर रोज कोई न कोई आपदा आ रही है । आप इस बात को लेकर परेशान हैं कि कहीं किसी ने कुछ कर तो नहीं दिया । ऐसे में आपको चाहिए कि एक नारियल को काले कपड़े में सिलकर घर के बाहर लटका दें ।
27. घर के पास पेड़ की जड़ में शाम को थोड़ा सा कच्चा दूध डाल दें । फिर गुलाब की अगरबत्ती जलाएं ।बूरी नजर दोष दूर हो जाएगा ।
To know more about Tantra & Astrological services, please feel free to Contact Us :
ज्योतिषाचार्य प्रदीप कुमार (मो.) 9438741641 /9937207157 {Call / Whatsapp}
जय माँ कामाख्या

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *