जन्म नक्षत्र
बिभिन्न नक्षत्र में जन्म लेने का फल :
January 9, 2023
आसन स्तम्भन मंत्र
आसन स्तम्भन मंत्र क्या है?
January 12, 2023
रोग प्रदत्त योग

रोग प्रदत्त योग :-

रोग प्रदत्त योग :अस्त शत्रुगृही अथबा नीच राशि का लग्नेश हो ।

लग्नेश त्रिकभाब में हो अथबा त्रिकेश लग्न में हो ।

पापग्रह से दृष्ट शनि 5, 9 अथबा 12 बें भाब में हो ।

छठा भाब तथा उसका स्वामी पापयुक्त हो तथा शनि, राहु से युत हो ।

सूर्य – शनि 4, 5, 6, 7, 8, 9 बें भाब में हो ।

शनि तथा राहु लग्न में तथा बुध सप्तम भाब में हो ।

अष्टम भाब में पाप ग्रह हो ।

क्रूर ग्रह केंद्र में हो और शुभ ग्रहों से दृष्ट भी न हो ।

दुसरे भाब में पाप ग्रह हों ।

अष्टम भाब का स्वामी त्रिकभाब में हो ।

छठे भाब में सौम्य ग्रह हों ।

सूर्य तथा चन्द्र यदि क्रूर ग्रहों से दृष्ट हो अथबा तीसरे भाब में स्थित हो ।

बुध और मंगल से लग्नेश 4 अथबा 12बें भाब में स्थित हो ।

गुरु छठे भाब में हो ।

Our Facebook Page Link

ज्योतिषाचार्य प्रदीप कुमार
हर समस्या का स्थायी और 100% समाधान के लिए संपर्क करे :मो. 9438741641 {Call / Whatsapp}

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *