गुरु का प्रभाब
बिभिन्न भाबों में गुरु का प्रभाब :
December 30, 2022
शनि का प्रभाब
बिभिन्न भाबों में शनि का प्रभाब :
December 30, 2022
शुक्र का प्रभाब

बिभिन्न भाबों में शुक्र का प्रभाब :

शुक्र का प्रभाब कुण्डली के बिभिन्न भाबों में …

१. पहले भाब में शुक्र का प्रभाब ब्यक्ति को बिद्वान, सत्संगी, सुखी, कोमल स्वभाब, संगीत प्रेमी तथा बिलासी बनाता है ।

२. दुसरे भाब में शुक्र का प्रभाब से ब्यक्ति बिद्वान, धनबान, भाग्यबान, कर्त्यब्य परायण, आयुष्मान तथा साहसी बनाता है ।

३. तीसरे भाब में शुक्र का प्रभाब ब्यक्ति की सुख, भाग्य तथा धन धान्य में बृद्धि करता है । ऐसे ब्यक्ति अपनी पत्नी से संतुष्ट नही होते ।

४. चौथे भाब में शुक्र का प्रभाब ब्यक्ति को भाग्य, धन, बाहन तथा संतान सुख से पूर्ण करता है ।

५. पंचम भाबगत शुक्र का प्रभाब से ब्यक्ति को बुद्धि, प्रतिभा, साहित्य प्रेम, सद्गुण आदि की प्राप्ति होती है । यह ब्यक्ति नीतिज्ञ तथा कलाप्रेमी होते हैं ।

६. छठे भाब का शुक्र ब्यक्ति को मितब्ययी, बैभबहीन तथा गुप्तरोगी बनाता है । यह ब्यक्ति संकीर्ण प्रबृति के होते है ।

७. सप्तम भाब में शुक्र होने से ब्यक्ति भोगी, बिलासी, चंचल स्वभाब, संगीत प्रेमी होता है । अच्छा तथा ऐश्वर्यमय जीबन जीना अच्छा लगता है ।

८. अष्टम भाब का शुक्र ब्यक्ति को बासनाप्रिय, गुप्त रोगी तथा पारिबारिक जीबन में असंतोष देने बाला बनाता है ।

९. नबम भाब में शुक्र होने से ब्यक्ति धर्म- कर्म में बिश्वास करने बाला, बुद्धिमान तथा भाग्यबान बनाता है । ऐसे ब्यक्ति अनेक तीर्थ यात्राएँ करते हैं ।

१०. दश्म् भाब में शुक्र ब्यक्ति को गुणबान, धनबान, प्रतिभाबान तथा माता –पिता का भक्त बनाता है । ज्योतिष तथा अन्य गुह्य बिद्याओं में इनकी रूचि होती है ।

११. एकादश भाब में शुक्र ब्यक्ति को कामी, धनबान, बुद्धिमान तथा प्रतिभाबान बनाता है ।

१२. द्वादश भाब में शुक्र की स्थिति मितब्ययी बनाती है । जीबन साथी से इनकी अनबन रहती है । यह धातु बिकार से पीड़ित होते हैं ।

Our Facebook Page Link

ज्योतिषाचार्य प्रदीप कुमार
हर समस्या का स्थायी और 100% समाधान के लिए संपर्क करे :मो. 9438741641 {Call / Whatsapp}

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *