जन्म कुण्डली में स्थित शत्रु एवं रोग योग की विवेचन एवं फलादेश :
जन्म कुण्डली में स्थित शत्रु एवं रोग योग की विवेचन एवं फलादेश
May 3, 2024
कुण्डली के अशुभ योगों की शांति कैसे करें ?
कुण्डली के अशुभ योगों की शांति कैसे करें ?
May 3, 2024
Ganesh Rudraksha

Ganesh Rudraksha : गणेश जी की आकृति वाले इस रुद्राक्ष को धारण करने से आपके सारे विघ्नों का नाश होता है । इस रुद्राक्ष को धारण करने से भगवान गणेश की कृपा भी प्राप्त होती है और उनके पिता भोलेनाथ भी प्रसन्न होते हैं ।

Ganesh Rudraksha ke Labh :
गणेश रुद्राक्ष (ganesh rudraksha) को धारण करने से सभी तरह के क्लेशों से मुक्ति मिलती है ।
• गणेश रूद्राक्ष पहने हुए एक व्यक्ति को जीवन के सभी क्षेत्रों में से सफलता प्राप्त होती है ।
• इसे धारण करने से भगवान गणेश, भगवान शिव का और देवी पार्वती जी का भी आशिर्वाद प्राप्त होता है ।
• गणेश रुद्राक्ष को धारण करने से केतु के अशुभ प्रभावों से भी मुक्ति मिलती है ।
• यदि आप फैसला लेने में अटकते हैं तो आपकी मदद कर सकता है ये गणेश रुद्राक्ष
• अगर किसी व्यक्ति की याद्दाश्त कमज़ोर है या उसे अपने कार्यों को करने में एकाग्रता में कमी आती है तो उसे गणेश रुद्राक्ष धारण करना चाहिए । गणेश रुद्राक्ष के शुभ प्रभाव से याद्दाश्त और एकाग्रता बढ़ती है ।
• जो बच्चे पढ़ाई में कमज़ोर हैं या जिन्हें पढ़ने में दिक्कत होती है उन्हें भी गणेश मुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिए । गणेश मुखी रुद्राक्ष धारण करने से विद्यार्थी पढाई में बेहतर कर पाते हैं ।
• भगवान गणेश को बुद्धि का देवता माना जाता है । इसलिए इस रुद्राक्ष को धारण करने से बुद्धि बढ़ती है और धारणकर्ता बुद्धिमान बनता है । गणेश मुखी रुद्राक्ष शिक्षा और बुद्धि के कारक ग्रह बुध को भी अनुकूल करता है ।
• मानसिक समस्याओं को भी गणेश मुखी रुद्राक्ष द्वारा हल किया जा सकता है । अगर किसी व्यक्ति को कोई मानसिक विकार या मानसिक रोग है तो उन्हें गणेश मुखी रुद्राक्ष धारण करने से लाभ होगा ।
• गणेश मुखी रुद्राक्ष धारण करने के बाद उस व्यक्ति को जीवन के हर क्षेत्र में सफलता हासिल होती है । साथ ही अगर आप अपने निर्णय ले पाने में अटकते हैं तो भी आपको गणेश मुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिए ।
• गणेश मुखी रुद्राक्ष पर भगवान गणेश का आशीर्वाद होता है और इसे धारण करने वाले व्यक्ति को व्यवसाय में खूब फायदा होता है । यह ganesh rudraksha अपने आप ही आपकी सफलता के मार्ग खोल देता है । साथ ही अगर आप नए व्यापार की शुरुआत करने वाले हैं तो आपको गणेश मुखी रुद्राक्ष धारण करने से लाभ होगा ।
Ganesh Rudraksha ke Prayog Bidhi
इसे गणेश चतुर्थी के दिन धारण किया जाए तो यह और भी शुभ फलदायक होता है । इस गणेश मुखी रुद्राक्ष को सोमवार के दिन धारण करना चाहिए ।
{{ गणेश मुखी रुद्राक्ष को अभिमंत्रित कर के आपके पास भेजा जाएगा जिससे आपको शीघ्र अति शीघ्र इसका पूर्ण लाभ मिल सके। }}
To know more about Tantra & Astrological services, please feel free to Contact Us :
ज्योतिषाचार्य प्रदीप कुमार (मो.) 9438741641/ 9937207157 {Call / Whatsapp}
जय माँ कामाख्या

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *