गुप्त श्मशान भैरवी साधना

गुप्त श्मशान भैरवी साधना

गुप्त श्मशान भैरवी साधना : श्मशान भैरवी साधना सिद्ध करने का विधान 1 दिन का होता है अगर योग्य गुरु आपको इसकी शक्ति सिद्ध कराते है अन्यथा मन्त्र जप से भी इसको सिद्ध किया जा सकता है । माँ भगवती श्मशानी देवी के बाद यह भैरवी दूसरे नंबर पर आती है । यह साधक के … Read more

कर्णपिशाचिनी तामस मंत्र क्या है ?

कर्णपिशाचिनी तामस मंत्र क्या है ?

कर्णपिशाचिनी तामस मंत्र क्या है ? 1) मंत्र : “ओम कं ह्रीं प्राणकर्षणमालोकितेन बिश्वरुपी पिशाची बद बद ई ह्रीं स्वाहा ।” अस्य बिधानम् – पखैकं दशसाहस्त्रं जपित्वा पिण्डदानेन सिद्धयति भूत भबिष्य बर्तमानदातां कथयति ।   2) अन्यत्र मंत्रो यथा : “ओम ऐं ह्रीं श्रीं दुं हुं फट् कनक बज्र बैडूर्यमुक्तालंकृत भूषणे एहि एहि आगछ आगछ … Read more

श्री भैरबी मंत्र प्रयोग :

श्री भैरबी मंत्र प्रयोग :

श्री भैरबी मंत्र प्रयोग : भैरबी मंत्र : “ओम नमो भैरबी तेरे आज्ञा काले कमलमुखे राज मोहने प्रजा बशीकरणे स्त्री पुरुषा रज्जिनि लोक बश्यं मोहिनि अमुकस्य मोहय गुरु प्रसादेन।।” ।। भैरबी मंत्र साधना बिधि ।। साधक इस मंत्र को किसी भी अष्टमी के दिन शुभ मूहुर्त में रात्रि 10 बजे के उपरान्त पबित्र होकर अपने … Read more