मधुमती योगिनी साधना कैसे करें ?

मधुमती योगिनी साधना :

मधुमती योगिनी साधना कैसे करें ? मधुमती योगिनी साधना : मधुमती देबी बिशुद्ध स्फटिक के सामान शुभबर्ण बाली, अनेक प्रकार के बस्त्रालंकारों से बिभुषित, पायजेब, हार, केयूर एबं रत्नजटित कुण्डलों से सुशोभित हैं । मधुमती योगिनी साधना का मंत्र यह है – “ॐ ह्रीं आगच्छ अनुरागिणी मधुमती मैथुनप्रिये स्वाहा ।” मधुमती योगिनी साधना बिधि – … Read more

कौवा का शरीर पर बैठने सम्बन्धी बिचार

Kauva

Kauva ka shareer par baithne sambndhi bichaar : 1. यदि कौआ किसी धनबान ब्यक्ति के मस्तक पर आ बैठे तो उसके धन का नाश हो जाता है । 2. यदि कौआ किसी के दायें कंधेपर आ बैठे तो उसकी मृत्यु हो जाती है । 3. यदि कौआ किसी के बांये कंधेपर आ बैठे तो उसका … Read more

कुंजिका स्तोत्र के आवश्यक नियम :

कुंजिका स्तोत्र

कुंजिका स्तोत्र के आवश्यक नियम : कुंजिका स्तोत्र दुर्गा सप्तशती चंडी पाठ की एक अद्भुत साधना मंत्र है ।जिसके चलते हुए साधना अनुष्ठान करने की पश्चात साधक को उसके अनुरूप इच्छा की हिसाब से साधना में सिद्धि प्राप्ति करता है ।कुंजिका को छोड़कर कुछ करना संभब नही है । १. साधना काल मे ब्रह्मचर्य का … Read more

अत्यंत तीव्र घोर रूपिणी वशीकरण प्रयोग :

घोर रूपिणी वशीकरण प्रयोग

अत्यंत तीव्र घोर रूपिणी वशीकरण प्रयोग : घोर रूपिणी वशीकरण प्रयोग : यह साधना बहुत ही तीक्ष्ण प्रवाभ रखती है । इसका उपयोग शत्रु वशीकरण के लिए और रूठी हुई पत्नी जा पति को वश में करने के लिए किया जाता है । यह भी ध्यान रखे के किसी भी अनुचित कार्य के लिए यह … Read more

आरती श्री प्रेतराज सरकार की :

आरती

आरती श्री प्रेतराज सरकार की : आरती : जय प्रेतराज कृपालु मेरी, अरज अब सुन लीजिए । मैं शरण तुम्हारी आ गया, हे नाथ दर्शन दीजिए ।। मैं करूं बिनती आपसे अब, तुम दयामय चित्त धरो । चरणों का ले लिया आसरा, प्रभु बेग से मेरा दुःख हरो ।। सिर पर मुकुट कर में धनुष, … Read more

भातृ प्रेम बर्द्धक तंत्र :

भातृ प्रेम

भातृ प्रेम बर्द्धक तंत्र : भातृ प्रेम : सब भाइयों में परस्पर प्रेम की अभीबृद्धि के लिए निम्नलिखित प्रयोग उपयोगी बताया गया है – जितने भाई हों, उतनी ही संख्या में बाज की छाती के पंख नोंच कर इकट्ठे कर लें । फिर पूर्णिमा की रात्रि में उन परों को दायें हाथ में लेकर किसी … Read more