पंचांगुली देबी मंत्र
हस्त रेखा सिद्धि हेतु पंचांगुली देबी मंत्र :
January 19, 2024
कार्य सिद्धि भैरब मंत्र
सर्ब कार्य सिद्धि हेतु भैरब मंत्र :
January 19, 2024
इछित बर प्राप्ति

इछित बर प्राप्ति हेतु दो मंत्र :

इछित बर प्राप्ति मंत्र : ॐ (…) आरत की रुत करू स्वाहा ।।
(प्रयोग का दूरुपयोग ना हो , इसीलिये याहा कुछ श्वद छुपाया गया है. ।)

बिधि : इस इछित बर प्राप्ति मंत्र की साधना 49 दिनों की है । इस मंत्र की सिद्धि चाहने बाले साधक ब्रह्मचर्य धर्म का पालन करते हुए सिर्फ एक समय अपने हाथों से भोजन पका कर खायें । भोजन में सिर्फ जौ के आटे की रोटी एबं चोलाई साग ही ग्रहण करें । इन दिनों साधक मौन ब्रत रखें अगर बोलना पडे तब या भोजन कर ,मल मुत्र त्यागने, निद्रा आदि के पूर्ब एबं बाद में हर बार 60 बार इस इछित बर प्राप्ति मंत्र का जप कर प्रायशिचत करें ।

किसी एकांत स्थान पर श्वेत बस्त्र पहन एबं श्वेत आसन पर बैठकर इसे जपें । इक्कीस दिन के बाद सताइसबें दिन तक इस मंत्र का देबता दिखायी देता है या उसकी आबाज सुनाई पडती है । डरें नहीं पैतीसबें दिन के पश्चात् इक्तालिसबें या उन्चासबें दिन किसी योगी या फकीर के रूप में दर्शन होने पर यह योगी फकीर प्रयोग कर्ता से लोबान धूप (इत्र) सुगंधित बस्तु की मांग करेगा, जिसे देना नहीं चाहिये ।

नोट : सुगंधित बस्तु देने से “साधना” की शक्ति नष्ट हो जाती है और दोबारा “प्रयोग” (साधना) करना पडता है ।

बिशेष : प्रयोग के उपरांत कोई अनुचित कार्य कदापि न करें, धर्म – पुष्प के कार्य ही सम्पादित करें । मंत्र का देबता आप के कहेनुसार जो बस्तु मंगाओगे बह लाएगा, जहाँ भेजोगे जाएगा। यह मंत्र अत्यंत चमत्कारी है इसका उपयोग जन सेबा हेतु करें ।

इसी बिधि से सिद्ध होने बाला एक और मंत्र :
ॐ बिआलिया आसुत का सुत (..) स्वाहा ।। प्रयोग का दूरुपयोग ना हो , इसीलिये याहा कुछ श्वद छुपाया गया है ।

Facebook Page

यदि आप को सिद्ध तांत्रिक सामग्री प्राप्त करने में कोई कठिनाई आ रही हो या आपकी कोई भी जटिल समस्या हो उसका समाधान चाहते हैं, तो प्रत्येक दिन 11 बजे से सायं 7 बजे तक फोन नं . 9438741641 (Call/ Whatsapp) पर सम्पर्क कर सकते हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *