समस्याए है तो समाधान भी है :
समस्याए है तो समाधान भी है :
March 22, 2024
सरस्वती मंत्र साधना :
सरस्वती मंत्र साधना कैसे करें?
March 22, 2024
सरल तंत्र जागरण साधना :
आज हम एक विशेष साधना बता रहे है जिसके माध्यम से आप अपने आप को अध्यात्म जीवन में सफल बना सकते है । इस तंत्र जागरण साधना को सिद्ध करने के बाद आपके अन्दर बदलाव आएगा जो आपको साधना कार्य में सफल बनाएगा । यह साधना आपके अन्दर जो सुसुप्त अवस्था में जो तंत्र नाडी उसे जाग्रत कर देगी । तंत्र जागरण साधना के बाद आप कोई सी भी साधना हो आसानी से सिद्ध कर पाएंगे ।
तंत्र जागरण साधना विधि:-
दिन : मंगलवार
समय : रात्रि 1:00 बजे बाद
दिशा : उत्तर
अवधि : 7 दिन
वस्त्र : काले रंग के
आसन : शमसान भष्म या भूमि (बिना किसी आसन )
माला : रुद्राक्ष
जप संख्या : 11 माला (नित्य)
उपरोक्त दिए गए सभी तथ्यों के अनुसार किसी भी मगलवार को रात्रि 1:00 बजे बाद भस्म का आसन लगा ले । याद रहे इसके आलावा कोई भी आसन का प्रयोग निषेद है । उसके बाद उत्तर की तरफ मुख करके बेठ जाये । अपने सामने बजोट पर भगवान शिव को कोई भी चित्र स्थापित कर ले तत्पश्चात पंचोपचार पूजन करे । फिर रुद्राक्ष की माला से आप 11 माला दिए गए मंत्र का जप करे । इस तरह आपको 7 दिन तक इस तंत्र जागरण साधना को करना है । 7 दिन के बाद भगवान शिव का आशीर्वाद लें और माला को अपने पास रखे बाकि सामग्री को जल में विसर्जित कर दें ।
तंत्र जागरण साधना मंत्र : “ ॐ शंकर जटा खोले शक्ति जरे स्वाह ”

सम्पर्क करे: मो. 9937207157/ 9438741641  {Call / Whatsapp}

जय माँ कामाख्या

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *