शक्तिशाली सुलेमानी मंत्र : “हज़रत पैगम्बर अली कि चौकी”

शक्तिशाली सुलेमानी मंत्र : “हज़रत पैगम्बर अली कि चौकी”

शक्तिशाली सुलेमानी मंत्र : “हज़रत पैगम्बर अली कि चौकी” जो सज्जन मुस्लिम पीर पैगम्बरों की पूजा करते है और चौकी वैगरह लगते है उनके लिये बहुत ही शक्तिशाली सुलेमानी मंत्र (कलाम) दे रहा हूं । पीर कोई भी हो इस कलाम के प्रभाव से पीर आपके हर कार्य में पहले सेे कहीं अधिक सहायता करेगा … Read more

नीलपताका देवी मंत्र प्रयोग :

नीलपताका

नीलपताका देवी मंत्र : नीलपताका देबी रण में बिजय दिलाती है। मंत्र :”ह्रीं सकलहक्रीं ॐ झं नीलपताके हुं फट्।”   महातारा ही कराला है । भाद्रमास में अमाबस मंगलबार पुनर्बसु, पुष्य, पूर्बाफालगुनी नक्षत्र हो उस दिन साधक बिष्णुक्रान्ता (अपराजिता) को श्मशान में ले जाकर शोधन करे । बाजार से मछली लाकर उसके मुंह में भांग … Read more

।।सिद्धि प्राप्ति हेतु काली कुल्लुकादि मंत्र।।

काली कुल्लुकादि मंत्र

।।सिद्धि प्राप्ति हेतु काली कुल्लुकादि मंत्र।। काली कुल्लुकादि मंत्र : इष्टसिद्धि हेतु इष्टदेबता के “कुल्लुकादि मंत्र” का जप अत्यंत्य आबश्यक हैं । दश महाबिद्याओं के कुल्लुकादि अलग अलग है । काली कुल्लुकादि मंत्र इस प्रकार हैं – काली कुल्लुकादि मंत्र : क्रीं, हूँ, स्त्री, ह्रीं, फट् यह पंचाक्षरी मंत्र हैं ।   मूलमंत्र से षडड्ग़न्यास … Read more

ब्यापार बंधन दूर करने का सिद्ध मंत्र :

ब्यापार बंधन

ब्यापार बंधन दूर करने का सिद्ध मंत्र : ब्यापार बंधन मंत्र : “ओं दक्षिण भैरबाय भूत, प्रेत , बन्ध, तंत्र बन्ध निग्रहनी सर्ब शत्रु संहारणी कार्य, सिद्धि कुरू कुरू स्वाहा।।”   बिधि : असली गुलाल, गोरोचन, छार, छबीला और कपूर कचरी पीसकर एक में मिला दें। रात्रि को किसी भी समय उपरोक्त मंत्र का १०१ … Read more

अग्नि बैताल सिद्धि हेतु मंत्र की साधना कैसे करें ?

अग्नि बैताल

अग्नि बैताल सिद्धि हेतु मंत्र की साधना : अग्नि बैताल मंत्र : ॐ नमो अगिया बीर बैताल। पैठि सातबें पाताल, लांघ अग्नि की जलती झाल। बैठि ब्रह्मा के कपाल । मछली, चील, कागली, गूगल, हरिताल। इन बस्तां को लै चलि, न लै चलै तो माता कालिका की आन। । अग्नि बैताल सिद्धि मंत्र बिधि : … Read more

सिद्धि के लिए मुट्ठी पीर मंत्र :

मुट्ठी पीर मंत्र

सिद्धि के लिए मुट्ठी पीर मंत्र : बिस्मिल्लाह अर्रहमान निर्ररहीम। साह चक्र की बाबडी, गले मोतियन का हार। लंका सौ कोट समुन्द्र सी खाई, जहाँ फिरे मोहम्मदा बीर की दुहाई। कौन बीर आगे चले । सुलेमान बीर चले, दुर्शनी बीर चले, नादिरशाह बीर चले । मुट्ठी पीर चले, नहीं चले तो हजरत की दुहाई । … Read more

कार्य सिद्धि हेतु दरिया देब का मंत्र :

कार्य सिद्धि मंत्र

कार्य सिद्धि हेतु दरिया देब का मंत्र : ॐ पहले नाम भगबान का, दूजे नाम औतार का। तीजे नाम सत् गुरू, जिनका नाम स्वामी जी। उनकी कृपा और उनकी दया इस ख्वाजा खिदर पूजने के लिए परसाद लेकर आया। लोना चमारी की दुहाई। बैष्णों शाकुम्भरा और औतार, पीर और पैगम्बर इन सबकी दया के साथ, … Read more

मृतबत्सा दोष नाशक मंत्र :

मृतबत्सा दोष नाशक मंत्र

मृतबत्सा दोष नाशक मंत्र : छोटी मोटी खप्पर, तुं धरती कितना गुण । जियके बल काट कूजान –बिज्ञान दाहिनी और हनुमान रहे ,बांयी और चील ।चहूँ और रक्षा – करे बीर बानर नील । नील बानर की भक्ति लखि न जाय । जेहि कृपा मृतबत्सा दोष न आय । आदेश कामरू कामख्या माई का । … Read more

कार्य सिद्धि हेतु कालिका मंत्र कैसे करें ?

कार्य सिद्धि

कार्य सिद्धि हेतु कालिका मंत्र : कार्य सिद्धि :किसी भी कार्य की कामना करने तथा उसमें निशिचत रूप से सिद्धि प्राप्त हो इसके लिये की कहा गया है कि कालिका साधना करना चाहिए। कालिका मंत्र इस प्रकार है – “श्री कालिका एलक मेलक, अठंत देब देबाने सैयद् मसाने , ऐते बाँध बशकर हाथ हथकड़ी , … Read more